भागलपुर [जेएनएन]। विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला को विगत वर्ष राजकीय मेला घोषित होने के बाद इस साल केंद्र सरकार की ओर से खास पहल की गई है। इसके तहत रेडीमेड सिमेंटेड कुर्सीनुमा बेंच और कांवर स्टैंड की सुविधा का लाभ कांवरिया ले सकेंगे। कांवरियों की सुविधा को लेकर सुल्तानगंज उत्तरवाहिनी गंगा घाट से लेकर कच्चा कांवरिया पथ पर नारदपुल, कमरांय, धांधी-बेलारी, तारापुर, मनिया धर्मशाला, कुमरसार धर्मशाला, धौरी धर्मशाला, दसपैशिया धर्मशाला, जिलेबिया धर्मशाला, टंकेश्वर धर्मशाला, अवरखा धर्मशाला, कांवरिया धर्मशाला, इनारावरण धर्मशाला, गौडिय़ा धर्मशाला होते हुए बिहार सीमा दुम्मा तक कांवर स्टैंड और कुर्सीनुमा बेंच कांवरिया पथ पर लगाई जा रही है। कांवर स्टैंड लगाने का कार्य सुल्तानगंज से शुरू कर कच्चे कांवरिया पथ पर सोमवार को धांधी-बेलारी के लखनपुर तक पहुंच गया है।

पर्यटन विभाग के सहायक अभियंता कमलेश शर्मा ने बताया कि कांवरियों की सुविधा के लिए केंद्र सरकार 511.25 लाख योजना के तहत विभाग से निविदा के माध्यम बीएन इंटरप्राइजेज द्वारा सुल्तानगंज गंगा घाट से लेकर बिहार के अंतिम सीमा दुम्मा तक कुल 1066 पीस कांवर स्टैंड और 3356 कुर्सीनुमा बेंच 30 जून तक सभी जगहों पर लगा दी जाएंगी। जिसमें ठहराव स्थल, महाशिविर एवं धर्मशाला जैसी जगहों पर अधिक संख्या में स्टैंड एवं बेंच लगाए जाएंगे।

श्रावणी मेले में पचास रुपए में मिलेगी कांवरिया स्पेशल थाली

प्रखंड मुख्यालय सभागार में आगामी श्रावणी मेला की तैयारी को लेकर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी लोकेश ठाकुर ने मेले में दुकान लगने वाले अस्थाई और स्थाई दुकानदारों के साथ बैठक कर मूल्य निर्धारण किया। 2018 की मूल्य तालिका में थोड़ी वृद्धि कर 2019 के लिए प्रस्तावित तालिका बनाई गई है। प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी ने बताया कि दुकानदारों के साथ बैठक कर प्रस्तावित रेट तैयार की गई है। इसे सदर अनुमंडल अधिकारी को प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा। स्वीकृति मिलने पर मूल्य तालिका को दुकानदारों के बीच वितरित किया जाएगा। कांवरियों को दिए जाने वाले भोजन में मिलावट करने वाले दुकानदारों को चिन्हित कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप