भागलपुर [जेएनएन]। बाढ़ और बारिश के कारण भागलपुर में गंगा का जलस्‍तर लगातार बढ़ रहा है। बुधवार शाम चार बजे तक और चार सेंटीमीटर गंगा के जलस्‍तर में वृद्धि होगी। गंगा का जलस्‍तर प्रत्येक 6 घंटे पर एक सेंटीमीटर बढ़ रहा है। केंद्रीय जल आयोग बेतार केंद्र हनुमान घाट के स्थल प्रभारी कृत्यानंद सिंह ने कहा है कि पटना से पूर्वानुमान में जलस्तर में वृद्धि होने की जानकारी दी गई है। बरहाल मंगलवार को गंगा 34.41 मीटर पर बह रही है, जबकि खतरे का निशान 33.68 मीटर है। यूं कहे की बारिश थमने के बाद भी गंगा के जलस्तर में लगातार वृद्धि जारी है और जिले में बाढ़ की स्थिति भयावह होती जा रही है। राहत शिविरों में निरंतर लोगों का आना जारी है।

अगले तीन दिनों तक हल्की बारिश के आसार

आज से अगले तीन दिनों तक जिले में हल्की बारिश के आसार हैं। इस दौरान आसमान में बादल छाए रहेंगे। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भी वृद्धि होगी।

वहीं, रविवार की सुबह आठ बजे से सोमवार की सुबह आठ बजे तक जिले में 449.20 मिलीमीटर बारिश हुई, जो सामान्य से 102.04 फीसद अधिक है। प्रखंडों में सबसे अधिक नारायणपुर प्रखंड में 324.20 मिलीमीटर बारिश हुई। इससे शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में जलजमाव हो गया है। शहर के कई मुहल्लों में तीन से चार फीट तक पानी भर गया है। मंगलवार को भी सुबह से हल्‍की बारिश हो रही है। हालांकि बारिश की रफ्तार में काफी कमी आई है।

सबसे अधिक इन प्रखंडों में हुई बारिश

नारायणपुर - 324.20

पीरपैंती - 182.60

गोपालपुर -168.80

इस्माइलपुर -142.00

कहलगांव -115.00

नवगछिया - 106.20

प्रो. वीरेंद्र कुमार (नोडल पदाधिकारी बीएयू मौसम विभाग सबौर) ने कहा कि कल तक हल्की बारिश होगी। तीन से पांच तक रिमझिम बारिश की उम्मीद बनी हुई है। तापमान में उतार-चढ़ाव संभव है।

मौसम में धीरे-धीरे और सुधार की संभावना है

बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवात और हवा का निम्न दाब अब कमजोर पड़ता जा रहा है। जिसके कारण मौसम में धीरे-धीरे और सुधार की संभावना है। बीएयू मौसम विभाग के नोडल पदाधिकारी प्रो. वीरेंद्र कुमार ने पूर्वानुमान में बताया है कि अगले 2 दिनों तक आसमान में आंशिक बादल छाए रहेंगे। इस दौरान जिले में कहीं-कहीं बूंदाबांदी हो सकती है ।

इधर मंगलवार कि सुबह धूप निखर आने से लोगों के चेहरे खिल गए हैं । जनजीवन धीरे-धीरे सामान्य होता जा रहा है। हालांकि बाढ़ की बढ़ती त्रासदी से प्रभावित लोगों की परेशानी अभी भी जस की तस बनी हुई है। लेकिन मौसम का साथ मिलने से ऊंचे स्थानों से लेकर राहत शिविरों में रहने आए लोगों की भी थोड़ी परेशानी कम हुई है। लोग अपने गीले कपड़ों और बिछवनो को सुखाने में लगे हैं। जिले में सोमवार की सुबह 8:00 बजे से मंगलवार की सुबह 8:00 बजे तक 17.90 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड किया गया है।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप