सुपौल। नेपाल के तराई क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रही बारिश से कोसी नदी के जलस्तर में वृद्धि हो गई है। पूर्वी कोसी तटबंध के अंदर पड़ने वाले दर्जनों गांव में दो से तीन फीट तक पानी फैल गया है। पानी घर-आंगन में प्रवेश कर जाने से लोगों के कहीं आने जाने की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। लोग ऊंची जगहों पर शरण लेने लगे हैं। माल-मवेशी के चारे की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है। सरकारी स्तर पर नाव नहीं मिलने के कारण लोगों में आवागमन के लिए अफरा-तफरी का माहौल बना हुआ है। खासतौर पर घर-आंगन में पानी प्रवेश कर जाने के कारण भोजन सहित माल मवेशी के चारे की गंभीर समस्या बन गयी है। इधर बौरहा मुखिया उदय कुमार चौधरी ने बताया कि पानी बढ़ने से रोड नंबर 6 तीन-चार जगहों पर टूट गया है। वहीं कोसी के समीप पूर्वी गाईड बांध के बगल से लोगों के द्वारा मिट्टी काटने के कारण गाईड बांध के बगल से नदी बहने लगी है। जिससे गाईड बांध को भी खतरा है। शुक्रवार को कोसी नदी का डिस्चार्ज 1 लाख 62 हजार क्यूसेक बताया गया। सीओ अजित कुमार लाल ने बताया कि कोशी नदी में लगातार बारिश होने से जलस्तर में बढ़ोतरी हुई है।

Posted By: Jagran