जमुई, जेएनएन। एक ओर जहां पूरा देश के साथ अपना बिहार वैश्विक महमारी के रूप में फैला कोरोना वायरस को लेकर बेहाल है तो दूसरी ओर बिहार के जमुई में अपराधी क्राइम करने से बाज नहीं आ रहे हैं। अपराधी पुलिस को लगातार चुनौती दे रहे हैं। जमुई के पोहे गांव में अपराधियों ने आपसी विवाद में ताबड़तोड़ फायरिंग कर इलाके को दहला दिया।

जमुई थाना क्षेत्र के पोहे गांव में आपसी रंजिश को लेकर बुधवार की देर शाम दो पक्षों के बीच रोड़ेबाजी के साथ गोलीबारी की घटना की गई। इस दौरान दोनों पक्षों से लगभग 30 राउंड फायरिंग हुई। हालांकि गोलीबारी की इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष राजबर्द्धन कुमार दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। मामले की छानबीन की जा रही है। हालांकि इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।

जानकारी के मुताबिक पूर्व की आपसी रंजिश को लेकर कपिल राम और सुमा यादव के बीच बुधवार को किसी बात को लेकर रोड़ेबाजी के साथ दोनों ओर से गोलीबारी होने लगी। सूत्रों की मानें तो हालांकि ग्रामीणों की सूझबूझ से इस पर काबू किया गया।

ज्ञात हो कि इससे पूर्व भी दोनों पक्षों के बीच पिछले एक वर्ष पूर्व दो बार गोलीबारी की घटना हुई थी| इसमें एक पक्ष के एक युवक को जांघ में गोली लगी थी, जबकि कई अन्य घायल हुए थे| उस वक्त भी दोनों पक्षों की ओर थाने में एक दूसरे के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई गई थी| वहीं इस बार भी गोलीबारी की हिंसक घटना के बाद भी दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज नहीं करायी है|

पुलिस ने हिंसक घटना के मद्देनजर दोनों पक्षों के विरुद्ध आगे की कार्रवाई कर रही है| इधर दूसरी ओर ग्रामीणों की मानें तो गुरुवार को दोनों पक्षों की आपसी सहमति बनाकर गांव स्तर पर गण्यमान्य लोगों की उपस्थिति में पंचायती कराई जाएगी।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस