भागलपुर [जेएनएन]। श्रवणी मेले के उद्घाटन में 24 घंटे रह गए हैं, लेकिन तैयारी अब तक आधी अधूरी ही है। गंगा घाट पर बैरिकेडिंग का काम तो लगभग पूरा कर लिया गया है लेकिन गंगा घाट पर स्लोपिंग का काम और बालू भरी बोरियां डालने का काम अभी भी जारी है। गंगा घाट जाने वाली सड़क पर कीचड़ ही कीचड़ है। अजगैबीनाथ मंदिर जाने वाली सड़क की हालत और भी खराब है। उसे किसी तरह चलने लायक बनाने का प्रयास किया जा रहा है। स्टेशन रोड में बस स्टैंड के पास सड़क पर नाली और शौचालय का गंदा पानी बह रहा है। मंगलवार की दोपहर 2.00 बजे उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित राजस्व और पीएचईडी मंत्री श्रवणी मेले का औपचारिक उद्घाटन करेंगे।

रविवार से ही सुल्‍तानगंज नगर में बिजली गुल रही। बताया गया कि मेंटेनेंस का काम चल रहा है। लोगों का कहना था कि बिना सूचना के ही बिजली काट दी गई, जससे काफी परेशानी हुई।श्रवणी मेला को लेकर पार्किंग स्थल पर अब तक रोशनी सफाई, पेयजल व सुरक्षा के इंतजाम नहीं हो पाए हैं। इससे कांवरियों को अपने वाहनों की पार्किंग में परेशानी उठानी पड़ सकती है।

हालांकि अधिकारियों का दावा है कि जल्द ही सारे इंतजाम कर लिए जाएंगे।श्रवणी मेले के दौरान हर रोज नई सीढ़ी घाट पर गंगा महाआरती का आयोजन होगा। यह जानकारी जाह्न्वी गंगा महाआरती सभा के महामंत्री संजीव कुमार झा ने दी है। वहीं, सुल्तानगंज में गंगा उफान पर है। जिसके कारण बैरिकेडिंग भी डूब गई। घाटों पर फिसलन की वजह से कांवरियों की परेशानी बढ़ गई है।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस