भागलपुर, जेएनएन। जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण का तेजी से बढ़ता जा रहा है। संक्रमित व्‍यक्तियों को इलाज के लिए कोविड सेंटर और अस्‍पताल में रखा गया है। शुक्रवार को कोवडि सेंटर से 26 मरीजों के स्‍वस्‍थ हो जाने के बाद उन्‍हें घर भेज दिया गया है।स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज स्थित कोविड सेंटर में भर्ती मरीज और कर्मियों ने आजादी का जश्न मनाया। सभी हाथ में तिरंगा के लेकर खुशी का इजहार किया। स्वतंत्रता दिवस को लेकर मरीजों के चेहरे पर अलग से मुस्कान दिखी। माहौल देखकर लग रहा था कि जैसे इन्हें कोरोना ने अपने गिरफ्त में नहीं लिया हो। युवा से लेकर बुजुर्ग मरीज हाथ में छोटा तिरंगा लेकर राष्ट्रगान भी गाए, सलामी भी दी। कोविड सेंटर जन-गन-मन की आवाज से गूंज उठा। कुछ देर के लिए सेंटर राष्ट्रभक्ति में डूब गया। हर कोई देश भक्ति की रंग में नजर आए। कोविड सेंटर के चिकित्सक डॉ. अमित कुमार शर्मा ने बताया कि शनिवार को पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस मनाया जाएगा। ऐसे में यहां भर्ती मरीजों को तिरंगा के साथ हौसला आफजाई किया गया। सेंटर की ओर से ही सारी व्यवस्थाएं की गई थी। इसके पीछे तर्क यह था कि मरीज कोरोना से बाहर निकल सकें। कोरोना मरीजों ने कहा कि भले ही कल के उत्सव में घर से बाहर कोविड सेंटर में है। लेकिन, देश की आजादी को कैसे भुलाया जा सकता है।

 स्वतंत्रता दिवस के पूर्व 26 मरीजों ने कोरोना से जीती जंग

भागलपुर : स्वतंत्रता दिवस के पूर्व संध्या पर 26 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली। शुक्रवार को टीटीसी स्थित कोविड सेंटर से इन्हें छुट्टी दी गई। इसमें पुलिस कर्मी भी शामिल हैं। ज्यादातर स्वस्थ्य होने वाले मरीज सुल्तानगंज और पीरपैंती प्रखंड के हैं। कोविड सेंटर के डॉ. अमित कुमार शर्मा और डॉ. नीरज गुप्ता ने सभी को दवाइयां देकर खुशी-खुशी विदा किए। डिस्चार्ज होने वाले सभी मरीज अभी 14 दिन घर पर ही रहेंगे। सभी मरीजों को शारीरिक दूरी बनाकर और मास्क पहनकर रहने को कहा गया है। एक भी मरीजों ने प्लाज्मा डोनेट करने की सहमति नहीं दी।

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस