भागलपुर, जेएनएन। कोविड स्पेशल से सफर करने वाले यात्रियों को कोरोना की जांच भी करानी होगी। जांच कोरोना एंटीजन किट से होगी। इसकी रिपोर्ट 20-25 मिनट में मिल जाएगी। रिपोर्ट में निगेटिव आने के बाद ही ट्रेन से सफर की अनुमति मिलेगी। यात्रियों को हर हाल में ट्रेन के निर्धारित समय से 90 मिनट पहले पहुंचना पड़ेगा। दरअसल, जिले में बढ़ संक्रमितों की संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जंक्शन पर आने और जाने वाले यात्रियों की कोरोना जांच कराने की व्यवस्था की है। इसके लिए पोॢटकों में हेल्थ काउंटर बनाया गया है। काउंटर पर ट्रेनों के आगमन तक चिकित्सक और लैब तकनीशियन रहेंगे। एक साथ चार यात्रियों की जांच की जाएगा। हेल्थ काउंटर का शुभारंभ बुधवार को जिलाधिकारी प्रणव कुमार करेंगे।

रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर क्वारंटाइन सेंटर या घर पर कराना होगा इलाज

रेलवे स्टेशन पहुंचने पर हर यात्री का कोरोना टेस्ट होगा। इसके आधार पर ही किसी यात्री की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे सरकारी क्वारंटाइन सेंटर या घर में क्वारंटाइन का फैसला किया जाएगा।

स्टेशन पर गोल घेरों में खड़ा होना होगा

स्टेशन पहुंचने पर यात्रियों को गोल घेरों में खड़ा होना होगा। उन्हेंं शारीरिक दूरी का नियम सख्ती से पालन करना होगा। ऐसा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए किया गया है। रेलवे स्टेशन परिसर समेत प्लेटफार्म पर यात्रियों को खड़ा करने के लिए गोल घेरे बनाए गए हैं।

ढाई हजार के आसपास यात्रियों का आवागमन

जंक्शन से कोविड स्पेशल बनाकर हर दिन दिल्ली के लिए दो और अगरतल्ला के लिए एक साप्ताहिक ट्रेन का परिचालन हो रहा है। अप और डाउन में करीब ढाई हजार यात्रियों का आवागमन जंक्शन पर होता है। अभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग ऑटोमेटिक मशीन से की जा रही है। इसको लेकर आवश्यक दिशा निर्देश दिय गया है। दरअसल, कोरोना से बचाव के लिए रेलवे की ओर से हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस