भागलपुर। मायागंज अस्पताल में कोरोना संबंधित जांच कराने वालों की लंबी भीड़ लगी रही। मंगलवार को 104 लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इसमें दो को संदिग्ध मानते हुए भर्ती किया गया। पहले से आइसोलेशन वार्ड में भर्ती पांच मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे गई।

वहीं, स्क्रीनिंग जांच के बाद खड़ा कराए मिरजानहाट का युवक फरार हो गया। सब मिलाकर 11 संदिग्ध अभी आइसोलेशन वार्ड में हैं। मंगलवार को पटना से जांच रिपोर्ट नहीं आई। बुधवार को रिपोर्ट आने की संभावना जताई जा रही है। नोडल पदाधिकारी डॉ. हेमशकंर शर्मा ने कहा कि पांच लोगों को जांच के लिए पटना भेजा गया था, अभी रिपोर्ट नहीं आई है। मंगलवार को दो लोगों में कुछ लक्षण मिले हैं। उनका ब्लड सैंपल जांच के लिए पटना भेजा गया है। डॉ. शर्मा ने बताया कि जांच की सुविधा भागलपुर में होनी चाहिए, जिससे रिपोर्ट के लिए इंतजार करना नहीं पड़ेगा। जेएलएनएमसीएच में भागलपुर के अलावा मुंगेर, बांका, कोसी और सीमांचल से भी लोग पहुंच रहे हैं। ऐसे में चिकित्सकों को परेशानी हो रही है।

-------------------------

खुलेंगे निजी क्लीनिक, पीपीआइ कीट दुकानों में होगा उपलब्ध

जासं, भागलपुर। लॉकडाउन में बंद निजी नर्सिंग होमों को खोलने को निर्देश जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने आइएमए को दी है। डीएम ने मंगलवार को आइएमए अध्यक्ष डॉ. सीएम उपाध्याय और सचिव डॉ. वीरेंद्र कुमार बादल के साथ बैठक की। बैठक में आइएमए अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना जांच के लिए चिकित्सकों को पीपीआइ पहनना अनिवार्य है। इसके बिना क्लीनिक में चिकित्सक कैसे काम करेंगे। डीएम ने कहा कि जिन नर्सिग होम के पास किट उपलब्ध है, वह तुरंत क्लीनिक खोलें। सर्जिकल दुकानों में जल्द ही किट उपलब्ध होंगे। इसके लिए निर्देश दिए गए हैं।

--------------------

आज एक हजार पीपीआइ किट पहुंचेगा

जासं,भागलपुर। एक हजार पसर्नल प्रोटेक्शन इक्वीटमेंट (पीपीआइ) किट बुधवार को जेएलएनएमसीएच में पहुंचने की उम्मीद है। अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने बताया कि राज्य स्वास्थ्य समिति से एक हजार किट की मांग की गई थी। मंगलवार को पटना से किट भेजने की बात कही गई है। किट आने के बाद चिकित्सकों को मुहैया करा दिया जाएगा।

----------------------

सदर अस्पताल में मजदूरों की हुई जांच

जासं, भागलपुर। लखनऊ से ट्रक से पहुंचे 22 मजदूरों की जांच मंगलवार को सदर अस्पताल में हुई। किसी भी मजदूर में कोरोना संबंधित लक्षण नहीं मिले। सभी को टीटीसी ग्राउंड में रखा गया है। मजदूरों को सदर अस्पताल में रखा गया है। सभी को जिला प्रशासन की ओर से भोजन की व्यवस्था की गई है। सभी मजदूर अभी यहीं रहेंगे। यहां पर पुलिस के जवान और मजिस्ट्रेट तैनात किए हैं।

-----------------

मुख्यमंत्री राहत कोष में मदद की घोषणा

जासं, भागलपुर। आइएमए बिहार के पूर्व अध्यक्ष डॉ. डीपी सिंह ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दो लाख रुपये देंगे। उन्होंने बताया कि एक से दो दिनों में यह राशि भेजी जाएगी। डॉ. सिंह ने बताया कि कोरोना से लड़ाई में सरकार को मदद मिलेगी। आइएमए भागलपुर के कोष में भी बीस हजार रुपये देने की घोषणा की है।

-------------------

आइएमए ने जारी किया नंबर

भागलपुर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन भागलपुर शाखा ने कई विभागों के चिकित्सकों का नंबर जारी किया है।

-शिशु रोग विभाग

-डॉ. ब्रजेश कुमार, 8676900960

-डॉ. पीके यादव, 8676072741

-डॉ. अनिल, 9431277557

-------------------

मेडिसीन विभाग

-डॉ. मनोज कुमार सिन्हा, 9431269543

-डॉ. अनु, 7004878163

-डॉ. डीपी सिंह, 9534522701

----------------

सर्जरी विभाग

-डॉ. मनोज राम, 9431213677

-डॉ. मृत्युंजय कुमार, 9431214115

-डॉ. सीएम चौधरी, 9934408146

-------------

हड़्डी रोग विभाग

-डॉ. मणी भूषण सिन्हा, 9441214181

-डॉ. एसके निराला, 9472329390

-डॉ. अमिताभ सिंह, 9060060173

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस