भागलपुर, जेएनएन। कोरोना वायरस से बचाव के लिए रेलवे ने अनोखी पहल की है। मास्क की किल्लत को देखते हुए एसी कोच में दिए जाने वाले बेडसीट से मास्क बनाने का निर्देश भागलपुर को दिया है। कैरेज एंड वैगन विभाग में मास्क बनाने का काम शुरू हो गया है। मास्क को भागलपुर रेल क्षेत्र के अधीन स्टेशनों के अलावा जमालपुर के कर्मियों को भी दिए जाएंगे। कैरेज एंड वैगन विभाग के अधिकारियों ने बताया की मंडल मुख्यालय से निर्देश मिलने के बाद मास्क बनाने का काम शुरू हो गया है। पीडब्ल्यूआइ आरके सिंह ने बताया कि मास्क गैंग मैन और ट्रैक मैन को भी गए। विभाग में कार्यरत एक दर्जन महिला कर्मियों को जिम्मेदारी दी गई है। बुधवार को 500 मास्क का किया गया है। दरअसल, ट्रेन परिचालन बंद होने के बाद मुख्यालय से आपूर्ति नहीं हो रही है। बाजार में भी उपलब्ध नहीं है। इस कारण रेलवे ने मास्क बनाने का निर्णय लिया।

रेलकर्मियों का हौसला 

दरअसल, यात्री ट्रेन सेवा बंद होने के बाद रेलवे स्टेशन पर सन्नाटा पसरा है। हर विभाग बंद है। लोगों को बंद के दौरान खाद्य सामग्रियों की किल्लत न हो इसके लिए यहां से हर दिन 12 से 15 मालगाडिय़ों का परिचालन हो रहा है। इन रेलकर्मियों का हौसला काफी बुलंद है। इनका कहना है कि पहले देश की सेवा उसके बाद अपनी सुरक्षा है। मालगाडिय़ों का परिचालन नहीं होगा तो खाद्य सामानों की किल्लत हो जाएगी। किसी तरह की परेशानी नहीं है।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस