भागलपुर, जेएनएन। भागलपुर जिले में आठ हजार प्रवासियों ने खुद को 14 दिन के लिए घरों में क्वारंटाइन कर लिया है, जबकि 34,351 प्रवासी जिले के क्वारांटाइन सेंटरों में हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम हर दिन की रिपोर्ट ले रही है। प्रवासियों के लगातार आने की वजह से क्वारंटाइन सेंटरों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। स्कूलों में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटरों में भोजन की व्यवस्था मीड डे मिल के राशन से की जा रही है।

पांच दिनों में पहुंचे 10 हजार प्रवासी

पिछले पांच दिनों में दस हजार प्रवासी जिले में आ चुके हैं। 19 मई तक जिले में 23303 प्रवासी जिले में आए थे। 21 मई को 32 हजार 361 प्रवासी ट्रेन और बसों से पहुंचे। 22 मई को इसकी संख्या 34484 हो गई।

14 दिन बाद ही जा रहे घर

दूसरे राज्यों से आए प्रवासियों को 14 दिनों बाद ही घर जाने की इजाजत दी जा रही है। चोरी छुपे किसी को भी प्रवेश करने की अनुमति न तो घर वाले दे रहे हैं और न ही ग्रामीण। अभी गांवों में ग्रामीणों का सख्त पहरा पड़ रहा है।

स्थान                             क्वाटंटाइन भवन          रखे गए प्रवासी

नगर पंचायत नवगछिया    01                              14

प्रखंड स्तरीय                    123                            14575

पंचायत स्तरीय                 247                           11512

ग्राम स्तरीय                     20                              476

अन्य राज्यों से आए प्रवासी : 34351

विदेश से आए प्रवासी 133

179 किए गए आइसोलेट

जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल और सदर अस्पताल में 179 प्रवासियों को आइसोलेट किया गया है। शुक्रवार तक 61 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

37 पुरुषों का इलाज जवाहर लाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल में चल रहा।

02 महिलाएं भी हैं भर्ती।

38 मरीज भागलपुर जिले के।

01 मरीज सुपौल जिले का

2241 व्यक्तियों का ब्लड सैंपल जांच के लिए भेजा गया।

2021 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव।

159 लोगों की रिपोर्ट का इंतजार।

विदेशों से आने वाले 133 लोगों के अलावा करीब आठ हजार प्रवासियों को घरों में क्वारंटाइन किया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम हर दिन अपडेट ले रही है। - राजेश झा राजा, एडीएम, भागलपुर

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस