भागलपुर [दिलीप कुमार शुक्ला]। जिले में प्रवासी मजदूरों और छात्रों के आने का सिलसिला जारी है। प्रतिदिन श्रमिक एक्‍सप्रेस स्‍पेशल ट्रेन से बड़ी संख्‍या में प्रवासी मजदूर विभिन्‍न राज्‍यों से भागलपुर आ रहे हैं। उन्‍हें अपने गंतव्‍य तक पहुंचाने के लिए भागलपुर रेलवे जंक्‍शन के पास बस खड़ी रहती है। हालांकि उनके घर पहुंचने के पहले उन्‍हें क्वारंटाइन किया जाता है। रेलवे जंक्‍शन पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जाती है। इसके बाद सभी को क्‍वारंटाइन सेंटर पहुंचाया जाता है। श्रमिकों के बीच शारीरिक दूरी बनी रहे, इसका पूरा ध्‍यान दिया जाता है।

बुधवार को मुंबई से भागलपुर रेलवे जंक्‍शन श्रमिक एक्‍सप्रेस स्‍पेशल ट्रेन पहुंची। इस दौरान वहां स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों की पूरी टीम मौजूद थी। ट्रेन से उतरे सभी श्रमिकों की स्‍क्रीनिंग हुई। भागलपुर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी वहां मौजूद थे। एसएसपी आशीष भारती ट्रेन पहुंचने के कुछ देर पहले रेलवे जंक्‍शन पर पहुंचे। उनके साथ कई और पुलिस अधिकारी थे। एसएसपी ने श्रमिकों का स्‍वागत किया। ट्रेन से उतरने के साथ ही उन्‍होंने ताली बजाई। उनके साथ सभी पुलिसकर्मी और स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों ने भी ताली बाजार श्रमिकों को स्‍वागत किया। श्रमिकों को भोजन का पैकेट दिया गया। 

यहां खास बात यह है कि एसएसपी आशीष भारती अपने आवास से साइकिल से निकले थे। उन्‍होंने शारीरिक दूरी का पालन किया। साइकिल पर भी वे हेलमेट और मास्‍क लगा रखे थे। उन्‍होंने हाथ में भी ग्‍लव्स भी लगाया था। वे बीच-बीचमें हाथ को सेनेटाइज भी कर रहे थे। साइकिल से स्‍टेशन पहुंच कर वे पर्यावरण संरक्षण और स्‍वस्‍थ समाज का संदेश भी दे गए। साइकिल चलाने का मतलब कार्बन उत्‍सर्जन को कम करना है। ताकि हमारा पर्यावरण बेहतर बना रहे। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए पर्यावरण की रक्षा करना भी अनिवार्य है। उन्‍होंने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने एवं इसके चेन को तोडने के लिए लोगों को मास्‍क पहनने, शरीरिक दूरी बनाए रखने, पर्यावरण की रक्षा करने, साफ-सफाई का ध्‍यान रखने एवं बार-बार हाथों को सैनिटाइज करने की सलाह दी।

यहां बता दें कि कोरना वायरस के संक्रमण से बचने और इसके प्रसार को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है। लेकिन रेलवे अन्‍य प्रदेशों में फंसे लोगों को संबंधित राज्‍यों में भेजने के लिए स्‍पेशल ट्रेन चला रही है। 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस