भागलपुर, जेएनएन। बिहार के सीएम नीतीश कुमार बुधवार को भागलपुर के सुल्‍तानगंज प्रखंड में चुनावी सभा को संबोधित करने गए थे। सुल्‍तानगंज का इलाका बांका लोकसभा क्षेत्र में पड़ता है। सीएम ने बांका लोकसभा के जदयू प्रत्‍याशी गिरिधारी यादव के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में जो काम किया हूं, उसकी मजूदरी मांगने आया हूं। गिरधारी यादव को वोट देकर मजदूरी दें।

सीएम नीतीश ने शहीद नीलेश के गांव सुल्तानगंज के उधाडीह में अपनी चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि अब बिहार के किसी भी हिस्से से लोग पांच घंटे में पटना पहुंच सकेंगे। इस लक्ष्य पर सरकार लगतार काम कर रही है। 

उन्‍होंने कहा कि बिहार में घर-घर बिजली आ गई है। अब लालटेन व ढिबरी की किसी भी घर में जरूरत नहीं है। उन्‍होंने कहा कि अब सौर ऊर्जा पर काम किया जा रहा है। विकास से कोई समझौता नहीं होगा और समाज के अंतिम घर में विकास की रोशनी पहुंचेगी। उनहोंने कहा कि बिहार पहला राज्य है, जहां पंचायती चुनाव में महिलाओं को 50 परसेंट आरक्षण दिया गया है। उन्‍हाेंने कहा कि बहुत से लोग समाज में टकराव पैदा करना चाह रहे हैं। सोशल मीडिया पर फेंक न्यूज चल रहा है। इससे सावधान रहने की जरूरत है।

उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि पीएम ने देश का सम्मान  बढ़ाया। आंतकवाद से समझौता नहीं किया। नरेंद मोदी ने बिहार के विकास के लिए काफी योगदान दिया। सड़कों के लिए 50 हजार करोड़ की सहायता दी। 

हाई स्कूल के मैदान में मंच पर आते ही नीतीश कुमार ने सबसे पहले शहीद नीलेश के प्रति श्रद्धासुमन अर्पित की। कहा, इस गांव से मेरा पुराना लगाव रहा है। हर मौसम में यहां आ जाता हूं। पिछली बार ठंड में आया था। आज आया तो गर्मी है। मुख्यमंत्री ने कह कि मैने हर इलाके में न्याय के साथ विकास किया। कहीं कोई भेदभाव नहीं किया।हर गांव को सड़क और पुल से जोड़ दिया गया। अब लोग छह घन्टे में सूबे के किसी भी हिस्से से पटना पहुंच जाते हैं। अब हर टोले का सर्वे कर उसे टोला संपर्क योजना से जोड़ा जा रहा है।

उन्‍हाेंने कहा कि एक जमाना था, जब लड़कियां प्राइमरी के आगे नहीं पढ़ पाती थीं। पोशाक और साइकिल योजना की शुरुआत की। समूह में लड़कियां स्कूल जाने लगीं।  इस समय नवमीं में 9 लाख लड़कियां क्लास कर रही हैं। पहले यह संख्या 1 लाख 70 हजार थी। स्टूडेन्ट क्रेडिट कार्ड से चार लाख रुपये निकाल कर अब छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षा ग्रहण कर रही हैं। बिहार पहला राज्य है, जिसने पंचायत चुनाव में महिलाओं को 50 फीसद आरक्षण देकर नारी सशक्तिकरण की मिसाल पेश की है। स्वंय सहायता समूह से जुड़कर इस समय एक करोड़ महिलाएं रोजगार कर रही हैं। पुलिस बहाली में महिलाओं को आरक्षण दिया गया। इससे पुलिस बलों में इनकी संख्या बढ़ी है। कौशल युवा केंद्र में कम्प्यूटर सीखकर लोग लाभान्वित हो रहे हैं। हर घर नल का जल, शौचालय पर सात निश्चय योजना से काम किया जा रहा है। सभी पुराने बिजली तार बदले जा रहे हैं। शराबबंदी से समाज मे बदलाव आया।

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस