भागलपुर [जेएनएन]। इस बार भी मारवाड़ी पाठशाला में स्थापित मां दुर्गा की प्रतिमा व पूजा पंडाल भक्तों क लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा। जुबक संघ ने अपने स्थापना के 37वें वर्ष के पावन अवसर पर पश्चिम बंगाल के मेदनीनगर स्थित बौद्ध मंदिर के स्वरुप का पूजा पंडाल बनाने का फैसला लिया है। उक्त आकर्षक पंडाल का निर्माण बंगाल के कलाकार कमल कुमार गिरि अपने 12 सदस्यों की टीम के साथ करने में लगे हैं। यूं कहे कि इस बार अंग क्षेत्र के लोग अपने शहर के मारवाड़ी पाठशाला मैदान में मेदनीनगर के बौद्ध मंदिर का नजारा देख पाएंगे।

मूर्ति निर्माण एवं साज सज्जा का काम भी बंगाल के कुमारटोली से आए कलाकार सुब्रतो पाल और श्रीकांत पाल कर रहे हैं। संघ के महासचिव बबन साहा ने कहा कि पंडाल में देवी की पूजा के लिए बंगाल से ही पंडित हरेंद्र नाथ चटर्जी और ढाक बजाने वाले आ रहे हैं। इस बार लाइट एवं साउंड की व्यवस्था स्थानीय स्तर पर की गई है।

पूजा समिति में ये है शामिल

अध्यक्ष : डॉ. आरएन झा

कार्यकारी अध्यक्ष : डॉ. डीपी सिंह

मुख्य संयोजक : डॉ. हेम शंकर शर्मा

उपाध्यक्ष : डॉ. शांतनु घोष, डॉ. मृत्युंजय कुमार, स्वप्न कुमार घोष, मुन्ना सिंह, उदय पांडेय, डॉ. आरपी सिंह, डॉ. कुमार सुनित, डॉ. एसपी सिंह, महासचिव बबन साह सहित अन्य।

1983 में हुई थी संघ की स्थापना

महासचिव बबन साह ने कहा कि वर्ष 1983 में जुबक संघ की स्थापना हुई थी। प्रारंभिक काल में अजंता टॉकीज के बगल में प्रतिमा की स्थापना की जाती थी। वर्ष 2000 से मारवाड़ी पाठशाला में पूजा का भव्य आयोजन किया जा रहा है। यहां दर्शन पूजन का भारी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। यहां का पूजा पंडाल एवं प्रतिमा लोगों के लिए हर वर्ष आकर्षण का केंद्र होता है।

तीन दिवसीय मेला का भी होता है आयोजन

पूजा प्रागंण में भक्तों के मनोरंजन के लिए तीन दिवसीय मेला का भी भव्य आयोजन होता है। लोग यहां देवी दर्शन के बाद मेले का भी परिवार के साथ जमकर आनंद लेते हैं। चाट-पकौडे, आइसक्रीम, सहित बच्चों के लिए मिठाइयां व खिलौने की भी दुकानें सजाई जाती है।

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस