जागरण संवाददाता, लखीसराय। रविवार को मुंगेर से सड़क मार्ग से राजधानी पटना जा रहे बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद रविवार की सुबह लखीसराय में कुछ देर रुके। यहां पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जाति आधारित जनगणना कराने की केंद्र सरकार से की गई मांग के संबंध में पूछे जाने पर डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने चुप्पी साध ली। मीडियाकर्मियों से कहा कि इस मुद्दे को छोड़कर दूसरा सवाल पूछिये। डिप्टी सीएम से जब पूर्व मुख्यमंत्री सह हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी का बयान मैं धर्म को नहीं मानता, मंदिर में जाकर घंटी बजाओ और मस्जिद में जाकर अल्लाह को याद करो लगता है कि अल्लाह बहरा हो गए हैं, बयान पर डिप्टी सीएम ने कहा कि यह मांझी जी का निजी बयान है। इसपर हमको कुछ नहीं बोलना है। डिप्टी सीएम ने कहा कि जीतन राम मांझी एनडीए के साथ हैं और हम सब मिलकर आत्मनिर्भर बिहार के निर्माण करने में लगे हुए हैं।

इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष देवानन्द साहू ने पार्टी नेता और कार्यकर्ताओं से उपमुख्यमंत्री का परिचय कराया। नगर परिषद के वार्ड पार्षद शिवशंकर राम, चंदन कुमार ने उप मुख्यमंत्री को बुके भेंट किया किया। वार्ड पार्षद शिवशंकर राम ने उपमुख्यमंत्री से मिलकर कहा कि नगर परिषद लखीसराय को पूर्व में कच्ची गली नाली योजना के लिए 18 करोड़ की राशि मिली थी। उस राशि का योजना पूर्ण कर सारा विपत्र विभाग को भेज दिया गया है। इसके बाद भी कच्ची गली नाली योजना के लिए फंड नहीं मिला है। इस कारण कार्य बंद है। इस पर डिप्टी सीएम ने कहा कि वे इसकी समीक्षा करेंगे।

उन्होंने जल्द ही लखीसराय आने की भी बात कही। इस मौके पर कई कार्यकर्ताओं ने उपमुख्यमंत्री से किऊल नदी के बंद बालू घाट को चालू करवाने की मांग की। इस पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में मुख्यमंत्री से बात करूंगा। स्थानीय आरलाल कॉलेज लखीसराय के कर्मियों ने डिप्टी सीएम को आवेदन देकर कॉलेज को सरकारी मान्यता दिलाने, बकाए अनुदान राशि का भुगतान कराने की मांग की। इस मौके पर नगर परिषद लखीसराय के नगर प्रबंधक कुमार गौतम, मिशन प्रबंधक अमित कुमार सिन्हा, नगर पंचायत बड़हिया के कार्यपालक पदाधिकारी विनय कुमार ने भी बुके देकर उपमुख्यमंत्री का स्वागत किया।

Edited By: Dilip Kumar Shukla