संवाद सूत्र, मुंगेर। बिहार पंचायत चुनाव 2021: जिले में पंचायत चुनाव की तारीख भले ही तय नहीं हुई है, लेकिन कवायद अभी से शुरू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग कोरोना संक्रमण को देखते हुए लोगों के स्वास्थ्य का पूरा ख्याल रखते हुए चुनाव कराने की तैयारी चल रही है। कोरोना को देखते हुए पंचायत चुनाव में मतदाताओं को हैंड ग्लब्स दिए जाएंगे। ग्लब्स पहनकर ही वोटर इवीएम का बटन दबाएंगे। मतदान केंद्रों पर सैनिटाइजर और मास्क भी उपलब्ध होंगे। चुनाव में प्रशिक्षण से लेकर नामांकन व मतदान से लेकर मतगणना के दौरान शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन किया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से पंचायत चुनाव 2021 के लिए कई गाइडलाइन जारी किया गया है। चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जाकर पंचायत चुनाव के प्रत्याशी नामांकन पत्र भर सकते हैं। पत्र को डाउनलोड करके नामांकन केंद्र में जमा करने का आप्शन भी चुन सकते हैं। नामांकन के समय केवल एक प्रस्तावक उम्मीदवार के साथ रहेगा। नामांकन से पहले हाथ धोने के लिए सैनिटाइजर या साबुन व पानी की व्यवस्था की जाएगी।

अक्टूबर में चुनाव होने की उम्मीद

जिले में पंचायत चुनाव तीन माह बाद अक्टूबर में होने की उम्मीद है। जिल पंचायती राज विभाग ने भी तैयारी शुरू कर दी है। मतदान से जुड़े कर्मियों व पदाधिकारियों को बड़े हाल में छह फीट की दूरी पर बैठने की व्यवस्था होगी। मतदान केंद्र प्रशिक्षण से पहले थर्मल स्क्रीङ्क्षनग की जाएगी। वोङ्क्षटग के दौरान किसी भी वोटर में कोरोना का लक्षण दिखा तो उसे क्वारंटाइन किया जाएगा। एक बूथ पर ज्यादा से ज्यादा 25 लोग ही कतार खड़े होंगे। चुनाव कराने के लिए एक सप्ताह पहले ही केरल से ईवीएम मंगाया गया है।

सीसीए एक्ट के लिए दिए गए निर्देश

पुलिस कप्तान जगुन्नाथ रेड्डी जलारेड्डी ने पंचायत चुनाव को देखते हुए सभी थानाध्यक्षों को आपराधिक पृष्ठभूमि वाले व्यक्तियों पर सीसीए (क्राइम कंट्रोल एक्ट) के तहत कार्रवाई की बात कही है। साथ ही धारा ऐसे लोगों की सूची भी बनाने का निर्देश दिया है।

इस बार कई तरह के चुनाव चिह्न

इस बार होने वाले पंचायत चुनाव के लिए चुनाव चिह्न की सूची भी राज्य निर्वाचन चुनाव आयोग से जारी कर दी गई है। चुनाव में किस्मत आजमाने वाले कोई प्रत्याशी कप प्लेट लेकर मतदाताओ के सामने खड़ा होकर स्वागत करेंगे तो कई कलम दवात लिए मतदाताओ के सामने विकास की लंबी लकीर लिखने के लिए बेताब दिखेंगे। मुखिया, सरपंच, पंचायत समिति, जिला परिषद,वार्ड सदस्य, पंच सदस्य के प्रत्याशियों के लिए अलग-अलग चुनाव चिन्ह आवंटित हुई है।

जिले में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश पर होगा। विभाग चुनाव को लेकर पूरी तरह से तैयार है। इस बार कोरोना को देखते हुए वोटरों को हैंड ग्लब्स, मास्क और सैनिटाइजर भी दिए जाएंगे। बूथों के बाहर थर्मन स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी। -स्निग्धा नेहा, जिला पंचायती पदाधिकारी मुंगेर।

 

  • -101 पंचायत है जिले के सभी प्रखंडों में
  • -14 जिला परिषद सदस्य के लिए पड़ेंगे वोट
  • -03 माह बाद चुनाव होने की सुगबुगाहट
  • -04 ट्रकों में केरल से पहुंचा है ईवीएम

Edited By: Dilip Kumar Shukla