जमुई [आशुतोष सिंह]। मैट्रिक तथा इंटरमीडिएट की परीक्षा (Bihar Inter Matric Exam) में भाग लेने वाले परीक्षार्थियों को अब अनिवार्य रूप से करोना का टीका (Corona Vaccination) लेना पड़ेगा। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव द्वारा सभी जिला पदाधिकारी तथा सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया है।

जिसमें कि 15 से 18 आयु वर्ग के सभी मैट्रिक तथा इंटर कि परीक्षार्थियों को परीक्षा के पूर्व अनिवार्य रूप से करोना का टीका लगवाना सुनिश्चित करें। ताकि परीक्षा के दौरान कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम की जा सके। सरकारी निर्देश के अनुसार 15 से 18 आयु वर्ग के किशोर तथा किशोरियों को कोविड-19 का टीका लगाया जा रहा है। जिसके तहत जमुई जिले के सभी प्रखंडों में अभियान चलाकर कोविड-19 टीकाकरण किया जा रहा है।

जिला तथा प्रखंड स्तर पर होगा टास्क फोर्स का गठन

स्वास्थ्य विभाग के निर्देश के आलोक में जिला स्तरीय तथा प्रखंड स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया जाना है। जिला टास्क फोर्स का गठन जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में की जाएगी जिसमें सिविल सर्जन, जिला शिक्षा पदाधिकारी,जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक तथा सहयोगी संस्था के प्रतिनिधि शामिल होंगे। वही प्रखंड स्तरीय टास्क फोर्स का गठन प्रखंड विकास पदाधिकारी की अध्यक्षता में किया जाएगा। जिसमें प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक तथा सहयोगी संस्था के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे। ज़िला तथा प्रखंड स्तरीय टास्क फोर्स प्रतिदिन करोना टीकाकरण अभियान की मॉनिटरिंग करेगी ताकि जल्द से जल्द लक्ष्य पूरा किया जा सके।

लक्ष्य प्राप्त करने वाले विद्यालय होंगे सम्मानित

15 से 18 आयु वर्ग के छात्र छात्राओं को करोना टीका लगाने का अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत सभी उच्च विद्यालयों तथा प्लस टू उच्च विद्यालयों में अध्ययनरत उन विद्यार्थियों को करोना का टीका लगाने का लक्ष्य दिया गया है जिनकी आयु 15 से 18 वर्ष है। जो विद्यालय स समय अपना लक्ष्य प्राप्त कर लेते हैं। उन्हें 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित करने का भी निर्देश जारी किया गया है।

21 हजार 736 विद्यार्थी देगें इंटर की परीक्षा

जमुई जिले के विभिन्न विद्यालयों तथा प्लस टू स्कूलों में पढ़ने वाले इंटरमीडिएट के 21 हजार 736 परीक्षार्थियों के लिए करोना का टीका अनिवार्य हो गया है। वहीं, मैट्रिक की परीक्षा में करीब 25 हजार छात्र शामिल होंगे। विभाग के निर्देशों के आलोक में इन परीक्षार्थियों को परीक्षा के पूर्व कोविड-19 टीका लेना पड़ेगा। क्योंकि स्वास्थ्य विभाग द्वारा शत प्रतिशत परीक्षार्थियों को टीका लेना अनिवार्य कर दिया गया है। फरवरी माह में शुरू होने वाले इंटरमीडिएट की परीक्षा में जमुई जिले के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर विज्ञान संकाय के 10 हजार 107 परीक्षार्थी, कला संकाय के 11 हजार 399 परीक्षार्थी तथा वानिज्य संकाय के 230 परीक्षार्थी अपनी परीक्षा देंगे। परीक्षा के दौरान संक्रमण रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 

Edited By: Abhishek Kumar