भागलपुर [दिलीप कुमार शुक्ला]। हवाई अड्डा मैदान में एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे पीएम ने जैसे ही तोरहरा सिनी क नमस्कार करै छियां... कहा, लोगों का उत्साह दोगुणा हो गया। डेढ़ साल के अंदर यह दूसरा मौका था जब पीएम भागलपुर पहुंचे हो। इससे पहले वह लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए भागलपुर पहुंचे थे। उस वक्त भी उन्होंने इसी तरह अंगिका में संबोधन शुरू कर यहां के लोगों का दिल जीत लिया था। इस बार पीएम भागलपुर विधानसभा के भाजपा प्रत्‍याशी रोहित पांडेय के पक्ष में चुनावी सभा संबोधित करने आए थे। प्रधानमंत्री ने क्षेत्र के सभी एनडीए प्रत्‍याशियों को जीताने से लोगों से अपील की।

मंच से लोगों का अभिवादन करने के बाद बाबा बैद्यनाथ, बासुकीनाथ, अजगैवीनाथ, चंपानगरी, मंदार पर्वत आदि का जिक्र कर पूरे अंग प्रदेश को एक सूत में पिरोने का प्रयास किया। हालांकि, इसके तुरंत बार वे विपक्ष पर हमलावर हो गए। उन्होंने कहा कि बिहार शिक्षा, स्वास्थ्य, उद्योग सहित अन्य चीजों का हकदार है। लेकिन कुछ लोग फिर से बिहार को जंगलराज की ओर ले जाना चाह रहे हैं। उन्‍होंने भाषण की शुरुआत तीन बार भारत माता की जय के साथ की। इसके बाद उन्‍होंने स्‍थानीय अंगिका भाषा में सिल्‍क सिटी के लोगों का अभिवादन किया। उन्‍होंने अंगिका में कहा 'ओ भाई-बहिन... दानवीर कर्ण की चंपानगरी आरो मंदार पर्वत, बाबा बासुकीनाथ, अजगैवीनाथ, श्रृंगी ऋषि की इ पवित्र भूमि के प्रणाम करै छियौन '। इसके बाद उन्‍होंने हिंदी में अपना भाषण शुरू किया।

अपने भाषण में उन्‍होंने स्‍थानीय मुद्दे, स्‍थानीय संस्‍कृति, स्‍थानीय रोजगार और स्‍थानीय राजनीति की भी चर्चा की। उनका पूरा भाषण भागलपुर और इसके आसपास के परिवेश पर आधारित था।

मंजूषा और सिल्क के बहाने आत्मनिर्भरता पर जोर

पीएम मोदी ने इस दौरान लोगों से अपील करते हुए कहा कि त्योहारों के वक्त में लोकल ही सामान खरीदें। पीएम मोदी ने इस दौरान भागलपुर की सिल्की साड़ी, मंजूषा पेंटिंग और अन्य उत्पादों का जिक्र किया और कहा इनका समर्थन करें। पीएम बोले कि मिट्टी के बर्तन, दीये और खिलौने जरूर खरीदें। अगर हम मिलकर कोशिश करेंगे तो बिहार और भारत दोनों आत्मनिर्भर बनेगा।

विपक्ष पर खूब बरसे

पीएम मोदी विपक्ष पर खूब बरसे। उन्होंने कहा कि विपक्ष तरह-तरह की भ्रम फैला रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार में इंफ्रास्ट्रक्चर पर ध्यान देना काफी जरूरी है, इसलिए सवा लाख करोड़ रुपये का पैकेज घोषित किया गया था। पिछले सालों में बिहार में साढ़े तीन हजार किमी. के राष्ट्रीय राजमार्ग बनाए गए हैं. बिहार में गंगा के ऊपर डेढ़ दर्जन पुल या तो बन गए या बन रहे हैं। पीएम ने कहा कि बिहार के कई शहर गंगा के किनारे बसे हैं, अब वाटर वे को बिहार में भी शुरू किया जाएगा। भागलपुर से होकर गुजरने वाले एनएच का भी चौड़ीकरण होगा। मंच पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और बिहार सरकार के मंत्री संजय झा भी मौजूद थे।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस