जागरण संवाददाता, भागलपुर। बौंसी और अमरपुर रोड पर स्थित बाइपास के दोनों ओवर ब्रिज की चौड़ाई बढ़ाने और पुराने ओवरब्रिज से सटकर नया ब्रिज बनाने के कार्यों के लिए स्थाई बाइपास के ओवरब्रिज के पास बौंसी और अमरपुर रोड 75 दिनों यानी ढाई महीने तक ब्लाक रहने के साथ ही बाइपास का दोनों ओवर ब्रिज भी बंद रहेगा। इस दौरान भागलपुर और जगदीशपुर दोनों मुख्य मार्ग की गाड़ियां बाइपास की सर्विस रोड से गुजरेगी। इससे बाइपास के ओवरब्रिज के सर्विस रोड पर गाड़ियों का दबाव बढ़ गया है। बाइपास समेत बौंसी और अमरपुर रोड की गाड़ियां सर्विस रोड से गुजरने की वजह से यातायात प्रभावित हो रही है। जाम लग रहा है। सुगम यातायात की व्यवस्था के लिए यहां कोई पुलिस जवानों की भी तैनाती नहीं की गई है। इस कारण बौंसी की ओर से आने वाली भारी वाहन बाइपास पर चढ़ने के दौरान जाम लग रहा है।

दरअसल, बौंसी और अमरपुर रोड पर स्थित बाइपास के दोनों ओवरब्रिज की चौड़ाई बढ़ाई जाएगी। पुराने ओवरब्रिज से सटकर नया ब्रिज बनना है। यह मुंगेर-मिर्जाचौकी नये फोरलेन के लिए नए ओवरब्रिज का निर्माण होगा। एनएचएआइ की निगरानी में एजेंसी मोंटे कार्लो दोनों ही जगहों पर नए ओवरब्रिज निर्माण का कार्य शुरू कर दिया है। बाइपास के ओवरब्रिज के पास बौंसी रोड को सड़क तोड़ा जा रहा है। एजेंसी के कर्मियों के अनुसार अमरपुर रोड पर ओवरब्रिज से सटकर नया ओवर ब्रिज का निर्माण कार्य होगा। फाउंडेशन का काम चल रहा है। नए दोनों ओवरब्रिज के निर्माण में ढाई महीने लगेगा।

बौंसी और अमरपुर रोड पर बाइपास के पुराने ओवरब्रिज से सटकर बनने वाले नए ओवरब्रिज के लिए भी पुराने ओवरब्रिज की तरह ही सर्विस रोड बनेगा। दरअसल, बाइपास रोड की चौड़ाई बढ़ने से ओवर ब्रिज के दक्षिण ओर का सर्विस रोड फोरलेन में चला जाएगा। फोरलेन पर गाड़ियों के चढ़ने के लिए सर्विस रोड की जरूरत पड़ेगी। वहीं, फोरलेन में शामिल दोगच्छी से जिरोमाइल के बीच 16.73 किमी लंबी बाइपास रोड को तोड़कर नए सिरे से पीक्यूसी (पेवमेंट क्वालिटी कंक्रीट) सड़क बनेगा। इसको फोरलेन के स्टैंडर्ड की सड़क बनाई जाएगी। एजेंसी के कर्मियों ने बताया कि मुंगेर से मिर्जाचौकी के बीच भी पीक्यूसी फोरलेन बनेगा।

Edited By: Dilip Kumar Shukla