भागलपुर [जेएनएन]। भागलपुर-रांची एक्सप्रेस को सिल्क सिटी से नहीं ले जाने का विरोध अब जोर पकड़ लिया है। इस जन आंदोलन में युवा भी कूद गए हैं। सड़क से संसद तक आंदोलन चलाने की रणनीति बनाई जा रही है। सोमवार को तख्तियां लेकर युवाओं ने आक्रोश व्यक्त किया। सांसद और रेल मंत्री से इसमें अविलंब हस्तक्षेप करने की मांग की। सभी ने साफ कह दिया है ट्रेन यहां से गई तो दिल्ली तक जन आंदोलन की आवाज सुनाई देगी।

सैंडिस कंपाउंड युवा एकता सामाजिक संगठन की बैठक हुई। इसमें सभी वर्ग के लोग शामिल हुए। संगठन के अध्यक्ष ओमप्रकाश उपाध्याय ने कहा कि पिछले कई सालों से यह ट्रेन चल रही है। इस ट्रेन से यहां के यात्रियों को काफी सहूलियत होती है। जन आंदोलन और हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत बुधवार से शुरू हो रही है। बैठक में जिलाध्यक्ष दीपक धनधानिया, महासचिव मंटू जाधव, आरिफ आजाद, कामेश्वर मंडल, अजय कुमार सिंह, सिकंदर चौधरी, विनय कुमार, मंगल यादव, विश्वजीत कुमार और ऋषिकांत यादव सहित दर्जनों थे।

सांसद भी हुए सक्रिय, रेलमंत्री को लिखा पत्र

भागलपुर-रांची एक्सप्रेस को सहरसा ले जाने का विरोध सांसद अजय मंडल ने भी किया है। सांसद ने कहा कि किसी भी कीमत पर यह ट्रेन नहीं जाएगी। इसके लिए रेलमंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखा गया है। रेलमंत्री ने आश्वासन दिया है कि यह ट्रेन भागलपुर से नहीं जाएगी।

राजद ने भी दी आंदोलन की चेतावनी

युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता अरुण कुमार यादव ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। रेल मामले में भागलपुर की अपेक्षा पर केंद्र सरकार का कड़ा विरोध किया है। इन्होंने कहा कि रेलवे निर्णय वापस नहीं लिया तो राजद आंदोलन करेगा।

तीन दिनों में 150 लोगों ने किया हस्ताक्षर

ट्रेन को सहरसा शिफ्ट करने को लेकर नागरिक विकास समिति की ओर से चलाए जा रहे हस्ताक्षर अभियान का असर दिख रहा है। तीन दिनों से चल रहे इस अभियान में 150 लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं। अध्यक्ष रिजवान खान ने कहा कि किसी भी हाल में भागलपुर-रांची एक्सप्रेस को सहरसा नहीं जाने दिया जाएगा। रेलवे सहरसा से रांची के लिए दूसरी ट्रेन चलाए।

ट्वीटर और फेसबुक से पीएम और रेल मंत्री से गुहार

ट्रेन को भागलपुर नहीं ले जाने को लेकर शहर के लोग ट्वीटर और फेसबुक के जरिये अपनी भड़ास निकाली। राकेश कुमार ने जागरण में छपी खबर को पोस्ट कर ट्रेन परिचालन शिफ्ट नहीं करने की मांग की। रिजवान खान ने पीएम के ट्वीटर अकाउंट पर हस्ताक्षर अभियान की प्रतियां और खबर डाली। सुमित जैन ने भी फेसबुक पर पोस्ट कर प्रतिक्रिया दी। चैंबर के अभिषेक जैन ने फेसबुक पर लिखा है कि इस ट्रेन के नहीं चलने से व्यापार पर सीधा असर पड़ेगा। ऐसे कई प्रतिक्रियाएं शहर के प्रबुद्ध लोगों ने शेयर किया।

Posted By: Dilip Shukla

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप