जागरण संवाददाता, भागलपुर : जिले के जगदीशपुर थाना क्षेत्र के वादे सैदपुर के कहार टोली में रविवार की शाम बम बनाते समय हुए विस्फोट में तातारपुर थाना क्षेत्र के रामसर निवासी धर्मेन्द्र सिंह उर्फ फुदरू गंभीर रूप से जख्मी हो गया। धमाके में उसके दाहिने हाथ की उंगली उड़ गई और छाती, पेट, चेहरा भी बुरी तरह झुलस गया है। स्वजनों ने उसे जख्मी हालत में खटिया पर लाद कर मुख्य सड़क पर पहुंच एंबुलेंस से जवाहर लाल नेहरू अस्पताल ले आए। जहां उसका उपचार चल रहा है। चिकित्सकों ने अधिक खून बह जाने से उसकी हालत नाजुक बताई है।

घटना की जानकारी पर जगदीशपुर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मौका मुआयना कर घटना को लेकर ग्रामीणों से पूछताछ की फिर जख्मी धर्मेंद्र का फर्द बयान लेने की कवायद शुरू कर दी है। प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों की माने तो धमाका काफी शक्तिशाली था। गांव में धनकटनी में लगी महिलाएं बदहवास हालत में भागने लगी। महिलाओं ने बताया कि ऐसा महसूस हुआ कि विस्फोट उनके बिल्कुल पास ही हुआ था, कचिया छोड़ कर जैसे-तैसे हालत में सभी जान बचाकर वहां से दूर भाग खड़ी हुई। उधर जख्मी धर्मेंद्र की पत्नी अंजू ने बताया कि उसके पति रंग-रोगन का काम करते हैं। वह रामसर स्थित ससुराल में थी, रविवार की दोपहर करीब एक बजे वह वादे सैदपुर स्थित ससुराल बीमार भाई जितेंद्र का हाल जानने गए थे। वहां कैसे धमाका हुआ वह नहीं जानती, वह तो रामसर स्थित ससुराल में थी।

उधर वादे सैदपुर निवासी एक व्यक्ति ने बताया कि रामसर से बम बनाने के लिए ही एक दबंग ने बुलाया था। उसी के बुलावे पर वह बाइक से दोपहर को ससुराल पहुंचा था जहां बम कसते समय ही ससुराल के समीप ही जोरदार धमाका। ग्रामीण दौड़ कर नजदीक गए तो वहां काला घना धुंआ फैला हुआ था, जहां जख्मी हालत में धमेंद्र गिरा पड़ा था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि धमाके के बाद दो लोगों को तेजी से वहां से बहियार की तरफ भागते हुए देखा। जगदीशपुर थानाध्यक्ष श्रीकांत चौहान घटना की प्रारंभिक छानबीन बाद मौके से भागे दो लोगों की पहचान की कवायद में जुट गए हैं। धमाके को लेकर तरह-तरह की चर्चा लोग करते मिले।

जगदीशपुर पुलिस की सैदपुर बालू घाट पर दो दिनों पूर्व की गई छापेमारी से बालू चोरों में हड़कंप की स्थिति है। बम बनाने के पीछे पुलिस के गुप्तचरों के विरुद्ध् हिंसक घटना को अंजाम देने की योजना बनाने की भी बात चर्चा में है। इधर जख्मी फिलहाल बयान देने में खुद को असमर्थ बता रहा है और फर्द बयान लेने गई पुलिस को कुछ बताने से फिलहाल खुद को असमर्थ बताया है। उसके स्वास्थ्य में सुधार होने पर बयान देने की बात कही है।

Edited By: Shivam Bajpai