खरीक, संवाद सूत्र (भागलपुर) : पत्नी और तीन माह के मासूम पुत्र की हत्या के आरोप में गिरफ्तार थाना क्षेत्र के कठेला गांव निवासी धीरज ठाकुर को शनिवार को पुलिस ने जेल भेज दिया। इससे पूर्व पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल करते हुए कहा कि घटना की रात करीब दस बजे मैंने अपनी पत्नी से शारीरिक संबंध बनाने का इच्छा जतायी। पत्नी ने इसका विरोध किया। मेरे पौरुष पर भी सवाल उठाया। इसके बाद मैं काफी उग्र हो गया। करीब 12 बजे पत्नी को सोया देख घर में मौजूद धारदार चाकू से उसके पेट में वार कर दिया। जिसपर वह छटपटाने लगी तो फिर मैं दो-तीन बार चाकू से वार कर दिया। इसी बीच पास में सोया बच्चा भी जगकर रोने लगा। जिसके कारण मैं बच्चे के पेट में भी चाकू से वार दिया। 

धीरज ने बताया कि इसी बीच पत्नी और पुत्र के रोने की आवाज सुनकर मेरे माता-पिता समेत परिवार के अन्य सदस्य आ गया। जिसके बाद मैं दो तल्ले मकान से ही कूदकर भाग गया। इसके बाद क्या हुआ मुझे कुछ मालूम नहीं। आरोपी के माता-पिता समेत अन्य परिवार ने कहा कि हमलोग सोचे कि घर में चोर घुस गया। यही सोच उपर गया। अगर जानते कि इतनी बड़ी घटना हो गया है तो आरोपी को भी उसी वक्त मार देते। वहीं, शनिवार को मृतक महिला देवता देवी एवं तीन माह का मासूम अमरजीत कुमार उफ्र्र सावन का शनिवार को गंगा घाट पर अंतिम संस्कार हुआ।

मृतका को उसके चचेरे देवर राहुल कुमार ने मुखाग्नि दिया। मृतक घरों में मातम पसरा हुआ है। शनिवार को नवगछिया एसपी एसके सरोज घटना स्थल पहुंचे और परिवार समेत आसपास के लोगों से घटना की विस्तृत जानकारी ली। साथ ही घटना स्थल का बारीकी और गंभीरता के साथ निरीक्षण किया। इस दौरान एसपी ने खरीक थानाध्यक्ष पंकज कुमार को त्वरित कार्रवाई करने के लिए शबासी दी।

Edited By: Shivam Bajpai