जागरण संवाददाता, भागलपुर। शहर में जलापूर्ति योजना को लेकर पाइप लाइन का कार्य चल रहा है। मानसून की बारिश में पाइप लाइन का कार्य अब शहरवासी को जख्म देने लगा है। तिलकामांझी से कचहरी चौक, तिलकामांझी से बरारी रोड और नाथनगर में पथ निर्माण की सड़कों काे पाइप बिछाने के लिए खोदा गया है। 900 एमएम व्यास का पाइप बिछाने के बाद सिर्फ मिट्टी से ढक दिया जाता है। जबकि गड्ढा भरने के लिए मोटर्रेबल करने का सख्त निर्देश दिया गया। बावजूद वीए टेक कंपनी जलापूर्ति पाइप बिछाकर सिर्फ मिट्टी डालकर छोड़ दे रहा है। इससे बारिश के पानी में मिट्टी धंस रही है। जगह-जगह गड्ढे उभर गए है। इसमें चार पहिया और भारी वाहन फंस रहा है। रविवार की रात कृषि कार्यालय के सामने धान के बीज से लदी गाड़ी फंस गई। जलापूर्ति पाइप के लिए खोदा गया गड्ढा अब राहगीरों के लिए जानलेवा बन गया है। वहीं बरारी रोड में गड्ढा खोदने के बाद नालियों में मिट्टी भर दिया गया है। इससे जल निकासी की समस्या बनी हुई है।

जानकार बताते है कि जलापूर्ति पाइप बिछाने के बाद पहले बालू से गड्ढे को भरा जाना है। इसके बाद मिट्टी बिछाकर इस पर रोलर चलाया जाना है। ताकि मिट्टी के धंसने की स्थिति नहीं रहे।

इधर बुडको के अभियंता ने बताया कि तीन दिनों के लिए बारिश के कारण कार्य बंद कर दिया है। अब बारिश के बाद ही कार्य शुरू होगा।

Edited By: Dilip Kumar Shukla