जासं, भागलपुर। मेडिकल कालेज की महिला चिकित्सक, नर्स समेत मंगलवार को जिले में 83 कोरोना पाजिटिव मिले। इनमें शहरी क्षेत्र के 19 कोरोना संक्रमित शामिल हैं। वैसे, संक्रमित होने वाले से ज्यादा ठीक होने वाले की संख्या ज्यादा है। जीरोमाइल इलाके में दंपती संक्रमित पाया गया है। जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर फिलहाल 513 पर आ गई है।

सिविल सर्जन डा. उमेश शर्मा ने बताया कि मायागंज अस्पताल के स्त्री एवं प्रसव रोग विभाग में तैनात महिला चिकित्सक, सर्जरी के आपरेशन थिएटर में तैनात स्टाफ समेत शहर में 19 कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। इसके अलावा शहर के तिलकामांझी में आधा दर्जन कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। खलीफाबाग में दो बुजुर्ग के संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा सात मोहल्ले में एक-एक कोरोना संक्रमित मिले हैं।

शहरी क्षेत्र में 15 घंटे कोरोना टीकाकरण केंद्र शुरू

शहरी क्षेत्र में 15 घंटे का कोरोना टीकाकरण केंद्र मंगलवार से आरंभ हो गया। आइएमए भवन में सुबह छह बजे से रात नौ बजे तक टीका लगवाया जा सकता है। घंटाघर स्थित टीचर्स ट्रेनिंग कालेज में 15 घंटे का टीकाकरण केंद्र चलाया जा रहा था, लेकिन बारकोडिंग का काम चलने के कारण कुछ दिनों के लिए यहां के इस केंद्र को बंद कर दिया गया है। सिविल सर्जन ने बताया आइएएम भवन में फिर से टीकाकरण केंद्र आरंभ कर दिया है। केंद्र में प्रशिक्षित पारामेडिकल स्टाफ, वेरीफायर, हाउस किपींक स्टाफ को लगाया गया है। केंद्र पर सभी उम्र के लोगों के लिए वैक्सीन की व्यवस्था है। इसके अलावा कोवैक्सीन और कोविशील्ड, दोनों तरह के टीके यहां पर लगाए जा रहे हैं। साथ ही बुजुर्गों को अतिरिक्त डोज देने की व्यवस्था की गई है। महिलाओं के लिए अलग से पिंक बूथ की व्यवस्था है। टीकाकरण के लिए इंतजार करने वाले मनोरंजन के लिए टेलीविजन भी लगाया गया है। शहरी क्षेत्र में इस केंद्र के आरंभ होने से लोगों को सुविधा हुई।

तबादले के लिए अधीक्षक से मिली नर्स

जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात नर्स का एक साल से ज्याद वक्त से दूसरे विभाग में तबादला नहीं हुआ है। इसे लेकर मंगलवार को नर्सों का शिष्टमंडल अस्पताल अधीक्षक से मिलने पहुंचा। नर्स ने अधीक्षक से कहा कि एक साल से हम लोग इमरजेंसी में कार्य कर रहे है। इमरजेंसी में तैनात 50 से अधिक नर्स को अब वार्ड में कार्य करने का मौका मिलना चाहिए। सभी का ड्यूटी रोस्टर को बदला जाएं। नर्स ने अपनी मांग अस्पताल की मेट्रन के सामने भी रखा। वहीं अस्पताल अधीक्षक डा. एके दास ने कहा की कोरोना प्रोटोकाल के तहत तबादला अभी संभव नहीं है। अस्पताल के विभिन्न वार्ड में कार्यरत डाक्टर, नर्स और कर्मी कोरोना संक्रमित है। ऐसे में अभी तबादला नहीं किया जा सकता है।

Edited By: Dilip Kumar Shukla