जागरण संवाददाता, कटिहार। निवर्तमान मेयर शिवराज पासवान हत्याकांड (Katihar Mayor Murder) के कारणों की गुत्थी सुलझाने को लेकर पुलिस तफ्तीश तेज हो गई है। चार गिरफ्तार आरोपितों को कोर्ट के आदेश पर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। मर्डर मिस्ट्री से पर्दा उठाने को लेकर पुलिस मोबाइल काल डिटेल को खंगाल रही है। मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण वरीय पुलिस अधिकारी भी तत्काल कुछ भी बताने से इंकार कर रहे हैं। हत्या की घटना के पीछे पुलिस अब तक पूर्व के विवाद व आपसी रंजिश को ही अहम कारण मान रही है।

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक घटना के दिन निवर्तमान मेयर के मोबाइल पर गिरफ्तार आरोपित मनीषा श्रीवास्तव का तीन बार काल आया था। अंतित काल घटना के कुछ देर पूर्व भी मनीषा ने शिवराज को फोन किया था। बताया जा रहा है कि मनीषा ने किसी बात को लेकर पंचायती करने के नाम पर निवर्तमान मेयर को अपने घर पर आने को कहा था। घर के सीढ़ी के समीप ही निवर्तमान मेयर की अपराधियों ने नजदीक से सीने में गोली मार हत्या कर दी थी। पुलिस इस बात की तहकीकात कर रही है कि घटना के दिन आखिर मनीषा ने निवर्तमान मेयर को तीन बार काल आखिर क्यों किया था। घटना के दिन मृतक के मोबाइल पर आए काल डिटेल को खंगालने के बाद 11 काल को पुलिस संदेह के नजरों से देख रही है।

उक्त 11 काल की पूरी कुंडली खंगालने में पुलिस जुटी हुई है। पुलिस जाांच में यह बात सामने आई है कि मनीषा के परिवार से निवर्तमान मेयर की वर्षों पूर्व से जान पहचान व आना जाता था। निगम पार्षद होने के कारण अपने वार्ड के मारपीट सहित अन्य आपसी मामलों को मिल बैठककर सुलझाने का काम करते थे। पुलिस का मानना है कि आपसी रंजिश के कारण ही घटना को अंजाम दिया गया है। लेकिन अन्य बिंदुओं को ध्यान में रखकर भी मामले की जांच की जा रही है। इसमें मामले में पुलिस ने मनीषा सहित उसकी मां कुमकुम श्रीवास्तव, पिंकु पासवान व शुभम पासवान को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना में छह से सात अपराधी के शामिल होने की संभावना

निवर्तमान मेयर की हत्या के बाद पुलिस ने आस पास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। फुटेज में छह से सात अपराधियों के शामिल होने की बात कही जा रही है। निवर्तमान मेयर को गोली मारने के बाद अपराधियों के भागने का फुटेज में कैद हुआ है। बताया जा रहा है कि सुनियोजित साजिश के तहत निवर्तमान मेयर की हत्या को अंजाम दिया गया। फरार आठ अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस की विशेष टीम का गठन किया गया है।

हत्याकांड के फरार आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने छापामारी तेज कर दी है। शनिवार को दो आरोपितों के शहर के समीप ही कहीं छिपे होने की सूचना मिली। लेकिन पुलिस के पहुंचने के कुछ देर पूर्व ही दोनों आरोपित फरार हो गए।

Edited By: Shivam Bajpai