भागलपुर। कोरोना संक्रमित मरीजों के केला और आम लाभदायी साबित हो रहा है। चिकित्सकों का कहना है कि केला में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम, आयरन और विटामिन सी रहता है, जो संक्रमित मरीजों के शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में काफी कारगर है। इससे वायरस का प्रभाव कम होता है।

कोरोना संक्रमितों के मामले में भागलपुर राज्य में दूसरे पायदान पर है। यहां अब तक 368 लोग संक्रमित हुए हैं, इसमें 294 लोग स्वस्थ्य होकर घर जा चुके हैं। संक्रमितों के स्वस्थ्य होने के पीछे दवाइयों के साथ चिकित्सकों का अनुभव भी काम आ रहा है। चिकित्सक अपने अनुभव और नुस्खे से मरीजों को स्वस्थ्य कर रहे हैं।

भागलपुर का रिकवरी दर बेहतर

एक से 22 जून के बीच जिले में कोरोना के 168 नए मरीज बढ़े। मरीज बढ़ने का असर जिले में स्वस्थ हो रहे कोरोना मरीजों की दर यानी रिकवरी रेट पर पड़ा। भागलपुर जिले में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 69 फीसद के आसपास है। जिले में अभी तक एक भी संक्रमित मरीज की मौत नहीं हुई है, जो जिले वासियों को सुकून देने जैसा है।

-------------------

एक सप्ताह से कम हुई मरीजों की संख्या

जिले में 16 जुलाई से कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में कमी आई है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े पर गौर करें तो 13 जून तक हर रोज औसतन आठ से दस मामले कोरोना के अस्पताल पहुंच रहे थे। सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि जिले में मरीजों के स्वस्थ्य होने का दर बेहतर है। मरीजों का उपचार बेहतर तरीके से किया जा रहा है।

---------------

कोट

-केला में कैल्शियम, विटामिन सी, एंटी ऑक्सीडेंट मिलते हैं। केला सेहत के लिए फायदेमंद है। कोरोना मरीजों को नाश्ते में केला और आम दिए जाते हैं। केला से इम्यूनिटी बढ़ती है।

-डॉ. हेमशंकर शर्मा, कोरोना के नोडल पदाधिकारी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस