भागलपुर [जेएनएन]। तेज रफ्तार अनियंत्रित ट्रक ने एक युवक को कुचल दिया। उसकी घटनास्‍थल पर ही मौत हो गई। इसके बाद उमड़े जनाक्रोश का शिकार हजारों निर्दोष लोग हुए। भीड़ ने सड़क जाम कर जमकर बवाल किया, जिससे सड़क पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। इस दाैरान दर्जनों छोटे-बड़े वाहन फूंक डाले गए। घटना भागलपुर के जगदीशपुर-भागलपुर मार्ग पर देर रात हुई। स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है।

ट्रक से कुचलकर युवक की मौत

जगदीशपुर थाना क्षेत्र में सोमवार की देर रात बेलगाम ट्रक ने जगदीशपुर मुख्य बाजार स्थित बजरंगबली चौक के पास एक बाइक सवार को रौंद दिया। ट्रक का चक्का बाइक सवार के सिर पर चढ़ जाने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक की पहचान जगदीशपुर थाना क्षेत्र के बादे गांव के 40 वर्षीय अवधेश सिंह के रूप में हुई है। अवधेश खेती-किसानी करके अपना घर चलाता था।

जानकारी के अनुसार अवधेश सोमवार की शाम अंगारी गांव अपने साथी से मिलने गया हुआ था। वहां से लौटते वक्त उसकी बाइक पर उसका साथी विकास भी था। लौटने के दौरान जगदीशपुर बाजार के पास एक कार से टकराकर वह गिर गया। उसी वक्त एक ट्रक ने उसे कुचल दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई जबकि उसका साथी विकास घायल हो गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

घटना के बाद आक्रोशित स्थानीय लोगों ने पांच ट्रक और एक कार में आग लगा दी । जब पुलिस उसे रोकने आई तो स्थानीय लोगों ने पुलिस पर भी पथराव कर दिया। हालांकि बाद में गोराडीह, लोदीपुर, बबरगंज, मुजाहिदपुर सहित कई थानों की पुलिस एवं जिले के वरीय पुलिस अधिकारी के आने के बाद पुलिस ने उपद्रव मचा रहे लोगों को खदेड़ा। पुलिस बल देख सभी लोग वहां से भाग निकले। सूचना मिलने पर दर्जनभर दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंची। काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। चालक ट्रक को छोड़कर भागने में सफल रहा।

भीड़ ने सड़क जाम कर की आगजनी

इसके बाद स्‍थानीय लोगों का गुस्‍सा फूट पड़ा। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने जगदीशपुर-भागलपुर मार्ग को जाम कर दिया। उन्‍होंने सड़क पर जमकर आगजनी की। जाम में सैकड़ों वाहन फंस गए। सड़क पर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

दर्जनों छोटे-बड़े वाहनों को फूंक डाला

इसी दौरान भीड़ में शामिल कुछ असामाजिक तत्‍वों ने दुर्घटनाग्रस्‍त ट्रक को आग के हवाले कर दिया। उन्‍होंने दूसरे वाहनों पर भी हमला करना शुरू कर दिया तथा दर्जनों छोटे-बड़े वाहन फूंक डाले।

पथराव से जान बचाकर भागी पुलिस

हिंसा पर उतारू भीड़ को रोकने पर लोगों ने पुलिस पर भी पथराव किया। स्थिति ऐसी बन गई कि पुलिस को भी वहां से भागना पड़ा। बाद में सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, एसडीओ आशीष नारायण, सिटी डीएसपी राजवंश सिंह और लॉ एंड आर्डर डीएसपी निसार अहमद शाह मौके पर पहुंचे। मुख्‍यालय से भारी संख्या में पुलिस बल को मंगाया गया।

जगदीशपुर बाजार में ट्रक के कुचलने से हुई अवधेश कुमार की मौत के बाद आक्रोशित स्थानीय लोगों ने जमकर उपद्रव किया। मौके पर पहुंची जगदीशपुर थाने की पुलिस टीम पर भी पथराव कर दिया। कई जवानों के साथ ग्रामीणों ने मारपीट भी की। ग्रामीणों में इस कदर आक्रोश था वे सड़क पर खड़े ज्यादा से ज्यादा ट्रकों को जलाने के प्रयास में थे। पांच ट्रकों और एक कार में आग लगाने और एक दर्जन से ज्यादा ट्रक में तोड़फोड़ के बाद ज्यादातर उपद्रवी भाग खड़े हुए। ट्रकों में लगी आग की लपटें 25 से 30 फीट ऊंची उठ रही थीं। कुछ ट्रकों में अनाज तो कुछ में गिट्टी लोड था। ट्रकों में आग के कारण रह-रहकर धमाके हो रहे थे। जिससे इलाके में दहशत का माहौल रहा।

 

शव को मौके पर छोड़ भाग निकले उपद्रवी

घटना की जानकारी मिलने पर सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, सिटी डीएसपी राजवंश सिंह, सदर एसडीओ आशीष नारायण, विधि व्यवस्था डीएसपी निसार अहमद शाह समेत एक दर्जन से ज्यादा थानों व पुलिस चौकी की फोर्स मौके पर पहुंची। पुलिस के पहुंचने से पहले ही उपद्रव करने वाले ग्रामीण घटनास्थल छोड़कर भाग निकले थे। उनलोगों ने शव को मौके पर ही छोड़ दिया।

आग बुझाने के लिए एक दर्जन दमकल की गाड़ियां पहुंचीं

ट्रकों में लगी आग को बुझाने के लिए एक दर्जन से ज्यादा दमकल की गाड़ियों को लगाया गया। फिर भी आग पर काबू पाने के लिए दमकल कर्मियों को काफी जोखिम और मशक्कत करनी पड़ी। ट्रकों के टायर में आग लग जाने के कारण पानी की बौछारों के बाद भी वह खत्म नहीं हो रही थी। मुख्य बाजार में इस तरह आगजनी के कारण आसपास के घर वाले भी दहशत में थे। फूस और प्लास्टिक की झोपड़ियों वाले लोग इस बात से डर रहे थे की कहीं उनके घरों में आग न पकड़ ले।

खेती और किराए पर ट्रैक्टर चलाकर परिवार का भरण पोषण करता था युवक

जगदीशपुर थाना क्षेत्र के बादे गांव निवासी अवधेश खेतीबाड़ी और दो ट्रैक्टर कर्ज पर लेकर मिट्टी और बालू का काम करता था। उसकी मौत के बाद स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। अवधेश की मौत के बाद आसपास के गांव के लोग जगदीशपुर बाजार में एकत्रित हो गए। दरअसल, लगातार महीनों से सड़क जाम रहने के कारण आमजन में पहले से ही गुस्सा था। उसके बाद इस हादसे ने लोगों के आक्रोश को और बढ़ा दिया। ग्रामीणों ने वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इस घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल कायम हो गया। मौके पर भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई।

बोले पुलिस अधिकारी 

जगदीशपुर में हुए उपद्रव मामले में एसएसपी को उपद्रवियों पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। उनसे पूरे मामले की रिपोर्ट मांगी गई है। मौके पर पुलिस की तैनाती कर दी गई है। - विकास वैभव,डीआइजी भागलपुर

जगदीशपुर में विधि व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो गई थी। मौके पर काफी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। उपद्रव करने वालों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। - आशीष भारती, एसएसपी भागलपुर

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021