जागरण संवाददाता, भागलपुर। बरारी स्थित नगर निगम के विद्युत शवदाह गृह में कार्य करने वाले छह दैनिक सफाई कर्मियों को 11 माह से मानदेय भुगतान नहीं किया जा रहा है। वहीं चार आपरेटर को सिर्फ आठ माह का ही भुगतान हुआ। इसे लेकर यहां प्रतिनियुक्त दैनिक कर्मियों में आक्रोश व्याप्त है। शनिवार को नगर आयुक्त के अपनी पीड़ा सुनने नगर निगम पहुंचे, लेकिन बैठक ही वजह से दैनिक कर्मियों की मुलाकात नहीं हो सकी।

विद्युत शवदाह गृह में कार्य करने वाले ने कई बाद गुहार लगा चुके हैं पर उनकी समस्याएं नहीं सुनी गई। भी सुनी। सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है। यहां कार्य करने वाले धर्मवीर कुमार,, अजय कुमार, गोपाल मल्लिक, जनक मल्लिक, मनोज कुमार रंजीत दैनिक सफाई कार्य व शवों के दाह संस्कार के लिए प्रतिनियुक्त किया गया है। वहीं राहुल कुमार, अनुज कुमार मंडल, रितेश व राहुल कुमार राय को आपरेटर के लिए तैनात किया गया है। कोरोना काल में कोविड शवों के अंतिम संस्कार के दौरान जान जोखिम डालकर कार्य किया। लंबे समय से कार्य करने के बाद भी अब तक मानदेय नहीं मिला है। ऐसी स्थिति में स्वजनों का भरण पोषण भी करना मुश्किल हो गया है। यहां जान जोखिम में डालकर काम कर रहे हैं। 16 जुलाई 2020 से शहदाह गृह में कार्य लिया जा रहा है।बावजूद मानदेय नहीं मिलने से निराशा का माहौल हैं।

जिले में मिले दो कोरोना संक्रमित

जागरण संवाददाता, भागलपुर : रविवार को जिले में दो कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें कहलगांव के 68 वर्षीय बुजुर्ग और रंगरा चौक निवासी 15 वर्ष का किशोर शामिल हैं। जिले में अभीतक 25813 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 25494 लोग स्वस्थ हुए हैं। 309 मरीजों की मौत हुई है। सक्रिय मरीजों की संख्या 10 है। रिकवरी रेट 98.61 फीसद है। तकरीबन पांच हजार लोगों का कोरोना की जांच की गई।  

Edited By: Abhishek Kumar