जागरण संवाददाता, पूर्णिया। Amit Shah Bihar Visit : जनभावना सभा में भाजपा नेताओं के निशाने पर नकस्लवादी, पीएफआई और बांग़लादेशी घुसपैठ रही। नेताओं ने इसके लिए राज्य की नीतीश और लालू सरकार को जिम्मेदार ठहराया। पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने भी सीमांचल में इन मुद्दों पर प्रहार किया। उन्होंने कहा कि पीएफआई भारत को एक मुस्लिम राष्ट्र बनाने की साजिश रच रही है। पूर्व के कांग्रेस और लालू सरकार में यह खूब फली-फुली। इसका खामियाजा आज पूरे देश को भुगतना पड़ रहा है।

उन्होंने राज्य सरकार से मांग की कि इस अलगाववादी संगठन पर बैन लगाए ताकि उनके मंसूबे पस्त हो सके। सुशील मोदी ने लालू यादव पर नक्सलवाद को भी संरक्षण देने का आरोप लगाया। कहा कि उनके शासनकाल में दक्षिण बिहार से लेकर मध्य बिहार में नक्सलवाद ने अपनी पैठ गहरी की। लेकिन अब केंद्र की मोदी सरकार इसका जड़ से नाश करने का काम कर रही है। कहा कि पिछले 53 साल बाद आज बिहार नक्सलवाद से मुक्त हो पाया है। वहीं उन्होंने सीमांचल में हो रही जनसंख्या वृद्धि पर भी सवाल उठाया। कहा कि पिछले 20 साल में सीमांचल के पूर्णिया, कटिहार, अररिया, किशनगंज में मुस्लिम आबादी में डेढ़ से दो गुणा वृद्धि हुई है जो जांच का विषय है।

कहा कि इस मामले में अररिया और किशनगंज के हालात सबसे गंभीर हैं। आने वाले दिनों में पूर्णिया भी मुस्लिम बहुल जिला बन जाए तो कोई आश्चर्य की बात नहीं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री बनने का दिवास्वपन देख रहे हैं लेकिन उन्हें पता नहीं है कि जब वे अकेले चुनाव लड़े थे तो मात्र दो सीट ला पाए थे। इस बार 2024 में जनता उन्हें कुर्सी से उतार देगी। उन्होंने नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा कि 2024 में बिहार में भाजपा 35 सीट पर जीत दर्ज करेगी। आगमी 2025 में उन्हें भी सत्ता से बेदखल होना पड़ेगा।

Edited By: Dilip Kumar Shukla