जागरण संवाददाता, भागलपुर। जन अधिकारी पार्टी सुप्रीमो पप्‍पू यादव की गिरफ्तारी के विरोध में उनके समर्थक और कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध किया है। पप्‍पू यादव आज पटना में गिरफ्तार हो गए हैं। इसकी सूचना मिलने के साथ ही यहां के कार्यकर्ता आंदोलित हो उठे। राज्‍य सररकार और भाजपा सांसद के खिलाफ जमकर हंगामा किया। भागलपुर जाप छात्र युवा परिषद के नेतृत्व में सभी पदाधिकारी अपने आवास के आगे घरना पर बैठे।

मुख्य कार्यक्रम छात्र परिषद के नेतृत्व में जाप जिला अध्यक्ष नीरज कुमार आवास पर हुआ। अन्य कार्यक्रम जय प्रकाश बाबू के नेतृत्व में भागलपुर आवास पर हुआ। युवा अध्यक्ष गौरव चौबे के नेतृत्व में

भी धरना दिया गया। अजमेरी अग्रवाल के आवास पर पप्‍पू यादव के समर्थन में कार्यकर्ताओं ने आवाज उठायी। कार्यक्रम में जिला अघ्यक्ष नीरज कुमार, महासचिव जय प्रकाश बाबू, युवा परिषद अध्यक्ष गौरव आनंद चाबे ने कहा कि यह सरकार जनविरोधी है। कोरोना वायरस से भी निपटने से सरकार पूरी तरह विफल रही है।

बिहपुर में पार्टी नेत्री सह जाप चिकित्सा प्रकोष्ठ की प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष डा.अजमेरी मतवाला ने अपने आवास राजव्यापी कार्यक्रम के तहत राज्य सरकार एवं भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी के विरोध में एकदिवसीय धरना दिया। डा.मतवाला ने बताया कि इस करोना काल में जहां एक और एंबुलेंस ऑक्सीजन के कमी के कारण मरीज तड़प-तड़प कर अपना दम तोड़ रहे हैं।

वहीं, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं बीजेपी के सांसद राजीव प्रताप रूढ़ी अपने आवास पर सांसद निधि कोष से खरीदा हुआ एंबुलेंस को आम जनता से छुपाकर पर्दे से ढक कर रखते हैं। सांसद राजीव प्रताप को आम जनता से छिपाकर और ढ़ककर कर रखने की क्या जरूरत पड़ी। यह मामला जाप प्रमुख पप्पू यादव ने लाया तो उन लचर स्वास्थ्य व्यवस्था एवं भाजपा नेता के विरुद्ध कार्रवाई नहीं करके अलोकतांत्रिकता की पराकाष्ठा पार करते हुए पप्पू यादव पर ही मुकदमा दर्ज करा दिया। पप्पू यादव जब पूरे बिहार वासियों के हक की आवाज उठाते हैं, तो नीतीश सरकार व भाजपा के इशारे पर उन्हें झूठे केस में फंसाया जाता है। सरकार सरकार ने दमनकारी नीति के कारण पप्‍पू यादव को आज गिरफ्तार करवा दिया है।

 

Edited By: Dilip Kumar Shukla