जागरण संवाददाता, जमुई। Republic Day 2021 : जिले के बरहट प्रखंड के नुमर पंचायत में 72वें गणतंत्र दिवस पर झंडोत्तोलन के दौरान पंचायत के मुखिया सुरेंद्र पासवान कार्यकर्ताओं पर भड़क गए और माइक छीनकर फेंकते हुए जमकर फटकार लगाने लगे। इस दौरान मुखिया और कार्यकर्ताओं की सारी हरकत मोबाइल में कैद हो गई। जो इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। हालांकि झंडोत्तोलन के दौरान ग्रामीणों की काफी भीड़ लगी हुई थी। इस अवसर पर मुखिया जी ने ग्रामीणों के समक्ष अपने कार्यकाल में किए गए विकास कार्यों को भी गिनाया और सरकारी योजनाओं को समाज के हर तबके के लोगों तक पहुंचाने की भी बात कही।

यहां तक तो सबकुछ ठीक-ठाक था। लेकिन मुखिया जी के संबोधन के बाद कार्यकर्ताओं द्वारा माइक लेकर जब ग्रामीणों से गणतंत्र दिवस पर दो शब्द कहने की बात कही गई तो एक ग्रामीण ने  कहा कि 5 वर्षों में मुखिया बदलना चाहिए। जनता वोट का मालिक होता है। इस बार किसी के बहकावे में नहीं आना है और पंचायत का कमान नए मुखिया के हाथों में देना है। बस इतना कहना ही था कि मुखिया जी आग बबूला हो गए और माइक छीनकर जमीन पर जोरदार पटक दिए। गनीमत रही कि कार्यकर्ताओं द्वारा बीच बचाव कर फौरन मामले को शांत करा दिया गया। लेकिन कुछ युवकों द्वारा मुखिया जी और ग्रामीणों के बीच हुए हरकत को मोबाइल में कैद कर वायरल कर दिया गया।

झंडोत्तोलन पर भी उठा सवाल

मुखिया द्वारा किए गए झंडोत्तोलन पर भी ग्रामीणों ने सवाल खड़े किए। हुआ यूं कि नुमर पंचायत के मुखिया ने जूता पहन कर झंडोत्तोलन किया। जिसका विरोध ग्रामीण करने लगे। झंडोत्तोलन के बाद मुखिया जी को एहसास हुआ कि उन्हें जूता खोलकर झंडोत्तोलन करना चाहिए था। चारों ओर से ग्रामीणों द्वारा किए जा रहे टिपण्‍णी से वे तनाव में आ गए और कार्यकर्ताओं पर ही भड़क गए थे। हालांकि वर्तमान मुखिया के कार्यकाल पर सवाल उठती रही है। ग्रामीणों में मु.हैदर, अरुण सिंह, दामोदर पासवान, महेश यादव, मु.जाबिर ने बताया कि गणतंत्र दिवस के पहले वर्तमान मुखिया का दर्शन दुर्लभ था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप