भागलपुर। जिला एवं सत्र न्यायाधीश अरविंद कुमार पांडेय की अदालत में बुधवार को मनबोधाचक गोलीकांड में सिपाही चालक ने गवाही दे दी। अपनी गवाही में उसने घटना संबंधी जानकारी अदालत को दी। 20 फरवरी 2018 को गश्त लगा रहे तत्कालीन जगदीशपुर थानाध्यक्ष नीरज कुमार तिवारी पर गोली चली थी। तब वह थाने की जीप चला रहा था। जीप पर थानाध्यक्ष नीरज तिवारी बैठे थे। घटना की बाबत सत्येंद्र यादव, चंदन राय, नत्तू, पोलो समेत अन्य को आरोपित बनाया गया था। बुधवार को पहले से गवाही की तय समय में जिला जज की अदालत में गवाही कराई गई। मालूम हो कि अपराध प्रभावित जगदीशपुर थाना क्षेत्र के चकफतिमा गांव से दक्षिण मनबोधा चक गांव में बदमाशों ने गोलियां चलाई थी। बदमाशों के निशाने पर थानाध्यक्ष ही थे जो उन दिनों बदमाशों की धरपकड़ को चलाए गए अभियान में लगे हुए थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस