भागलपुर। भागलपुर शहरी क्षेत्र सहित जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या पांच सौ से ज्यादा हो गई है। सोमवार को जिले में 10 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें चार शहरी क्षेत्र के हैं। इनमें मायागंज अस्पताल की दो नर्से भी शामिल हैं। इसके अलावा जगदीशपुर में एक, शाहकुंड में दो, कहलगांव में दो और गोराडीह में दो संक्रमित मिले हैं। कहलगांव की आशा कार्यकर्ता भी संक्रमित पाई गई है। वह शादी में शामिल होने आई थी।

तातारपुर में दो संक्रमित मिले

शहरी क्षेत्र के तातारपुर में दो कोरोना मरीज मिले हैं। इसके अलावा बूढ़ानाथ और आदमपुर में भी दो लोग संक्रमित मिले हैं। शहरी क्षेत्र में अब तक 30 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। इनमें भीखनपुर, आनंदगढ़, सिकंदरपुर, मिरजानहाट, तिलकामांझी, बूढ़ानाथ सहित अन्य मोहल्ले शामिल हैं। कोरोना मरीज वापस कोविड सेंटर आया

सोमवार को दो कोरोना संक्रमित मरीज पुन: शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय कोविड सेंटर में वापस आ गए। नवगछिया और सुल्तानगंज के कोरोना संक्रमितों को 24 जून को कोविड सेंटर में भर्ती किया गया था। उसे बांड भरवाकर घर जाने की इजाजत दी गई। पता चला कि स्वास्थ्य कर्मचारियों को ही बांड भरवाकर घर में क्वारंटाइन रहने कहा है। इसकी जानकारी मिलने पर अधिकारियों ने दोनो कोरोना संक्रमितों से कोविड सेंटर में वापस आने के लिए निवेदन किया। सोमवार को दोनों कोरोना संक्रमित अपने वाहन से कोविड सेंटर आए और भर्ती हुए। तब अधिकारियों ने राहत की सांस ली। नर्सिग होम के कर्मचारी क्वारंटाइन हुए

नाथनगर के एक व्यक्ति की मौत हटिया रोड स्थित एक नर्सिग होम में हो गई। उसका ऑपरेशन किया गया था। मौत के बाद परिजनों ने नर्सिग होम के कर्मचारियों को बताया कि वह कोलकाता से आया था। इसकी जानकारी मिलते ही नर्सिग होम के कर्मचारी हड़बड़ा गए। जांच के लिए सैंपल देने मेडिकल कॉलेज गए तो कहा गया जांच बंद है। परिजनों के कहने पर ही मरीज का ऑपरेशन किया गया था। उसकी सांस चल रही थी, तेज बुखार और तेज खांसी भी हो रही थी। नर्सिग होम के कर्मचारी क्वारंटाइन में चले गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस