भागलपुर। कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है। रविवार को शहर और ग्रामीण क्षेत्र सहित जिले में 40 नए मरीज मिले। इनमें मायागंज अस्पताल का एक टेक्नीशियन भी शामिल है, जो बरहपुर में रहता है। टेक्नीशियन के कोरोना संक्रमित होने की सूचना मिलने पर मायागंज के एक विभाग के सारे कर्मचारियों को भी जांच करवाने का फरमान जारी किया गया है। शनिवार को भी शहरी क्षेत्र के दो कोरोना पॉजिटिव सहित जिले में 35 मरीज मिले थे, जिन्हें शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय के कोविड सेंटर में भर्ती किया गया है। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 471 हो गई है।

रविवार को नारायणपुर में 20, नवगछिया में 16 और गोराडीह में तीन कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं, मुंदीचक का 72 वर्षीय कोरोना पॉजिटिव मरीज की स्थिति गंभीर होने पर उसे मायागंज अस्पताल रेफर कर दिया गया। वृद्ध को दो दिन पहले शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय के कोविड सेंटर में भर्ती किया गया था। कोरोना संक्रमित पेइंग वार्ड से फरार

मायागंज अस्पताल के पेइंग वार्ड में भर्ती एक कोरोना संदिग्ध मरीज फरार हो गया। उसका सैंपल जांच के लिए शनिवार को लिया गया था। ततारपुर का निवासी दोपहर को फरार हो गया। अस्पताल प्रबंधक ने इसकी सूचना बरारी थाना को दी है। अस्पताल अधीक्षक ने इसकी सूचना सिविल सर्जन को दी है। टेक्नीशियन पर प्राथमिकी दर्ज

मेडिकल कॉलेज में टेक्नीशियन शीलभद्र पर जांच मशीन तोड़ने को लेकर बरारी थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। बताया गया कि शनिवार की रात उसकी ड्यूटी थी। उसने तीन सीबी नट मशीन तोड़ दी। उसकी हरकत सीसीटीवी में कैद हो गई। रविवार को टेक्नीशियन जांच करने गए तो मशीन काम नहीं कर रही थी। इसकी जानकारी प्रभारी डॉ. अमित कुमार सिन्हा ने प्राचार्य को दी और प्राचार्य ने अस्पताल अधीक्षक को। अधीक्षक ने उसकी संविदा रद कर दी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस