भागलपुर, जेएनएन। किऊल-भागलपुर के बाद अब साहिबगंज-मालदा रेल सेक्शन पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन दौड़ाने की कवायद शुरू कर दी गई है। इस सेक्शन पर डीजल की जगह इलेक्ट्रिक इंजन दिखेंगी। 30 जून को मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरअएस) भागलपुर से शिवनारायणपुर के बीच नई विद्युतीकरण लाइन का अंतरिम निरीक्षण करेंगे। निरीक्षण के बाद सीआरअएस एक सप्ताह बाद रिपोर्ट भेजेंगे, फिर इलेक्ट्रिक इंजन से परिचालन का रास्ता साफ हो जाएगा। यात्री ट्रेन का परिचालन शुरू होने के बाद इस खंड पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें चलने लगेंगी। निरीक्षण के दौरान मालदा मंडल के डीआरएम यतेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारी रहेंगे। रविवार को सीआरएस निरीक्षण को लेकर टै्रफिक इंस्पेक्टर केके राय, राजीव शंकर और बीबी तिवारी भागलपुर से शिवनारायणपुर तक हर स्टेशनों का जायजा लिया। तीनों अधिकारी अलग-अलग स्टेशनों पर कर्मियों को निर्देश दिए। तकनीकी कमियों को दूर किया गया। मंगलवार को निरीक्षण का काम भागलपुर से शुरू होगा। इसके बाद शिवनारयणपुर से भागलपुर तक इलेक्ट्रिक इंजन से स्पीड जांच की जाएगी।

साहिबगंज-शिवनारायणपुर तक हो चुका है सीआरएस जांच

साहिबंज-शिवनारायणपुर के बीच विद्युतीकरण लाइन की जांच मार्च के पहले सप्ताह में हो चुकी है। उस वक्त भागलपुर तक काम पूरा नहीं हो सका था। इस कारण शिवनारायणपुर तक जांच नहीं हो सकी। अब काम पूरा होने के बाद जांच के लिए नई तारीख निर्धारित की गई है।

 

यात्री सुविधाओं को होगा विस्‍तार

इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन चलने के साथ यात्री सुविधाओं का भी विस्‍तार किया जाएगा। इसकी भी तैयारी की जा रही है। रेलवे स्‍टेशनों पर भी सुविधाएं बढ़ायी जाएंगी। ट्रेन में सीटों की संख्‍या में बढ़ाई जा रही है। इससे यात्रियों को राहत मिलेगी। लोगों की परेशानी को देखते हुए रेलवे ने यह निर्णय लिया है। इसके लिए लगातार रेलवे के अधिकारी दौरा कर रहे हैं। संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया जा रहा है। स्‍टेशन का सौंदर्यीकरण भी किया जा रहा है। भागलपुर रेलवे जंक्‍शन होकर गुजरने वाली ट्रेनों में बेहतर व्‍यवस्‍था की जा रही है। यह जंक्‍शन इस मार्ग का सबसे महत्‍वपूर्ण है।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस