भागलपुर, जेएनएन। भागलपुर जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। 72 घंटे के दौरान जिले में आठ नए मामले मिले हैं। अब तक कुल मरीजों की संख्‍या 371 हो गई है। मंगलवार को सुल्तानगंज प्रखंड में तीन नए केस मिले थे, जिसमें दो महिला हैं। सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार सिंह ने बताया कि सभी संक्रमित प्रवासी हैं। सभी संक्रमित को टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। हालांकि अब तक करीब 294 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। चिकित्सकों के अनुसार लॉकडाउन-चार से अनलॉक-एक के दरम्यान कोरोना संक्रमितों की संख्या में इजाफा हुआ है।

कोरोना संक्रमण को देखते हुए 25 डाक कर्मचारियों को छुट्टी

कोरोना संक्रमित डाक निरीक्षक के संपर्क में आने वाले प्रधान डाकघर के पोस्ट मास्टर समेत 25 डाक कर्मचारियों को जांच रिपोर्ट आने तक छुट्टी दे दी गई है। डाक अधीक्षक आरती प्रसाद ने कहा कि बुधवार को डाकघर खुला रहेगा, लेकिन 25 कर्मियों जिनमें भीखनपुर तीन नंबर गुमटी स्थित डाक अधीक्षक कार्यालय के दो-तीन कर्मी भी शामिल है, छुट्टी दे दी गई है। उन्होंने कहा कि वह खुद करंट ड्यूटी पर रहेंगे। कार्यालय से जुड़े तमाम कार्य आवास से करेंगे। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कार्यालय कक्ष में बैठेंगे।

कोरोना से मुक्ति की ओर बढ़े सूबे के कुछ और जिले

बिहार में अन्य राज्यों से आने वाले श्रमिकों वापसी कम होते ही कुछ जिले संक्रमण से मुक्त होने की दिशा में बढ़ने लगे हैं। इन जिलों में कुल मरीजों की संख्या में अनुपात में एक्टिव केस लगातार घटे हैं। ऐसे कुछ प्रमुख जिलों में नालंदा, खगड़िया, लखीसराय, जमुई, अररिया और मधेपुरा प्रमुख हैं। कोराना संक्रमितों की जांच में बुधवार से और तेजी आएगी। 

शारीरिक दूरी का नहीं हो रहा पालन

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शारीरिक दूरी का पालन अनिवार्य है। इसके बावजूद शहर में जाम में लोग फंस रहे हैं। शहर में काफी भीड़ रहती है। मास्क भी ज्यादातर लोग नहीं पहनते। प्रवासियों के आने से कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की संख्या बढ़ी है। 

 

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस