भागलपुर। सृजन घोटाले के मास्टरमाइंड और कलिंगा सेल्स के मालिक एनवी राजू की अलग-अलग तीन संपत्ति को बैंक ऑफ बड़ौदा ने शनिवार को जब्त कर लिया। दंडाधिकारी और पुलिस की निगरानी में बैंक के अधिकारी ने कार्रवाई करते हुए मकान और जमीन को जब्त किया। राजू की 2.20 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई।

बैंक ऑफ बड़ौदा की घटाघर शाखा ने ऋण नहीं चुकाने पर यह कार्रवाई की है। राजू के पास बैंक का एक करोड़ 55 लाख 85 हजार 366 रुपये मूलधन सहित 1.88 करोड़ बकाया था। बैंक के कानूनी सलाहकार केशव झा ने बताया कि बैंक ने कलिंगा सेल्स के मालिक को बकाया नहीं देने पर डिमाड नोटिस भेजा था, लेकिन नोटिस का कोई जवाब नहीं आने के बाद यह कार्रवाई की गई है। बैंक ने अब ई-नीलामी के माध्यम से जब्त संपत्ति को बेचकर लोन अकाउंट को एडजस्ट करने का निर्णय लिया है।

संपत्ति जब्त करने के दौरान दंडाधिकारी गोपाल प्रसाद, बैंक अधिकारी ब्रज किशोर सिंह, रजनीश शेखर, आरआर विभूति, आरके ठाकुर और एसएन महतो उपस्थिति थे।

................

ये संपत्ति हुई जब्त

-निगम के वार्ड-16 स्थित जोगसर के चंडी प्रसाद लेन में 1440 वर्गफीट की जमीन है। यह जमीन 14 अप्रैल 2005 को उसने खरीद की है।

-डॉ. आरपी रोड में ईश्वरी काप्लेक्स में ग्राउंड फ्लोर पर 1004 वर्गफीट के अलावा काप्लेक्स 0.0594 डिसमिल जमीन है। यह जमीन छह जून 2008 को उसने खरीद की है।

-पुलिस लाइन रोड में अध्यान्ती टॉवर के बेसमेंट में 856 वर्गफीट का हिस्सा है। यह बेसमेंट 20 मई 2014 को उसने खरीद की है। ....................

मनोरमा और बैंक के बीच कड़ी

सृजन महिला सहयोग समिति की संस्थापिका मनारेमा देवी को बैंक अफसरों से मिलाने का काम राजू करता था। मनोरमा देवी के घर पर राजू की बैंक अफसरों के साथ बैठकी होती थी। वह सृजन के खाते में सरकारी राशि जमा करने का आदेश देने वाले भागलपुर के एक पूर्व डीएम का भी करीब था। सूबे के कई बड़े अफसरों से भी उसकी नजदीकी होने की बात सामने आई है। कुछ अफसरों के पैसे भी उसके कारोबार में लगे हैं। सृजन घोटाला में सीबीआइ ने एनवी राजू पर चार्जशीट किया है। सीबीआइ द्वारा चार्जशीट करते ही राजू यहां से कारोबार समेटकर फरार हो गया। खलीफाबाग चौक और कचहरी के निकट उसके व्यापारिक प्रतिष्ठान थे। राजू अब अपने गृह जिला भुवनेश्वर में शिफ्ट कर चुका है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस