भागलपुर, जेएनएन। इंटर की परीक्षा गुरुवार को संपन्न हो गई। अब जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग ने 17 से प्रारंभ हो रही मैट्रिक परीक्षा की तैयारियां भी शुरू कर दी है। यह परीक्षा 17 से 24 फरवरी तक चलेगी। इसके लिए जिला प्रशासन ने कुल 57 परीक्षा केंद्र बनाए हैं। सदर अनुमंडल में 42, नवगछिया में नौ एवं कहलगांव में छह केंद्र बनाए गए हैं। मैट्रिक की परीक्षा में कुल 45,261 छात्र-छात्राएं शामिल होंगी। जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने कहा कि छात्राओं को परीक्षा केंद्र पर पहुंचने में कोई परेशानी न हो इसका खास ख्याल रखा गया है। छात्राओं का परीक्षा केंद्र उनके गृह अनुमंडल में ही होगा।

नवगछिया के नौ केंद्रों पर होगी मैट्रिक की परीक्षा

नवगछिया पुलिस जिला में 17 फरवरी से नौ केंद्रों पर मैट्रिक की परीक्षा होगी। इनमें सात केंद्रों पर केवल छात्राएं परीक्षा देंगी। सभी नौ केंद्रों पर 7907 परीक्षार्थी शामिल होंगे। इनमें 2117 छात्र एवं 5790 छात्राएं हैं। छात्राओं के लिए बाल भारती विद्यालय, बनारसी लाल सर्राफ कॉलेज, इंटरस्तरीय उच्च विद्यालय, रूंगटा बालिका उच्च विद्यालय, प्रेसिडेंसी पब्लिक स्कूल, लालजी मध्य विद्यालय सिंघिया मकंदपुर, सावित्री पब्लिक स्कूल को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। छात्रों के लिए जीबी कॉलेज एवं मदन अहिल्या महिला महाविद्यालय को परीक्षा केंद्र बनाया गया। परीक्षा को लेकर केंद्रों पर दंडाधिकारी के अलावा पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति की गई है। एसडीओ मुकेश कुमार ने कहा कि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहेंगे। उडऩदस्ता टीम का भी गठन किया गया है, जो गतिमान रहकर परीक्षा की हर गतिविधि पर निगरानी रखेंगे। सभी परीक्षा केंद्रों पर सीसी कैमरे लगाए जाएंगे। किसी भी परीक्षा केंद्र पर कदाचार होने की स्थिति में केंद्र अधीक्षक पर भी कार्रवाई की जाएगी।

17 से हड़ताल की घोषणा

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के सभी संगठनों ने विभिन्न मांगों को लेकर 17 फरवरी से हड़ताल की घोषणा कर रखी है। हालांकि इस घोषणा के बाद डीईओ ने गुरुवार को संगठनों के अधिकारियों के साथ बैठक की और परीक्षा में सहयोग करने को कहा। इसे समन्वय समिति के अधिकारियों ने सिरे से खारिज कर दिया। कहा गया कि हड़ताल की घोषणा राज्य संघ के अह्वान पर की गई है। यह पांच लाख शिक्षकों के हक व मान मर्यादा को लेकर की जा रही है। अगर सरकार शिक्षा के प्रति संवेदनशील है तो राज्य संघ से वार्ता करे। बैठक में राणा कुमार झा, राणा कुणाल सिंह सहित अन्य शामिल थे।

हड़ताल पर जाने वाले शिक्षक पर होगी कार्रवाई

शांतिपूर्ण और कदाचार मुक्त मैट्रिक को लेकर गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम बिहार बोर्ड के अध्यक्ष ने तैयारियों की जानकारी ली। इस दौरान डीएम सहित कई अधिकारी मौजूद थे। उन्होने कहा कि मैट्रिक परीक्षा के समय हड़ताल पर जाने वाले शिक्षकों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस