भागलपुर, जेएनएन। विक्रमशिला सेतु के पहुंच पथ पर पुलिस ने एक कार से 92 किलो 500 ग्राम गांजा बरामद किया। अंधेरे का लाभ उठाकर तस्कर भाग निकला। एसएसपी के निर्देश पर सिटी डीएसपी राजवंश सिंह के नेतृत्व में मंगलवार की देर रात रोको-टोको अभियान के तहत वाहनों की जांच की जा रही थी। विक्रमशिला सेतु के पहुंच पथ पर गंगा ब्रिज टीओपी के पास पुलिस ने सफेद कार (जेएच 01डीए-7169) की जांच की। कार की डिक्की में ढाई-ढाई किलोग्राम गांजा के 37 बंडल मिले। पुलिस ने उसे जब्त कर लिया है।

गांजा लदी कार नवगछिया की ओर जा रही थी। चेकिंग अभियान में ट्रैफिक पुलिस भी शामिल थी। इधर, बंडल के ऊपर संकेतों में कुछ लिखा गया है। पुलिस को आशंका है कि गांजा झारखंड से नवगछिया ले जाया जा रहा था। एसएसपी आशीष भारती ने बताया कि बरारी ओपी के बयान पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। जांच के दौरान डीएसपी के साथ ही यातायात निरीक्षक केके शर्मा, बरारी ओपी प्रभारी नवनीश कुमार, दारोगा अवधेश प्रसाद चौधरी, सअनि राम प्रवेश यादव आदि मौजूद थे।

ट्रक से पकड़ी 3362 बोतल विदेशी शराब, दो गिरफ्तार

उत्पाद विभाग की टीम ने एक मिनी ट्रक से 3362 बोतल विदेशी शराब के साथ मंगलवार को दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। इसमें एक की पहचान सहरसा जिले के बिहरा थाना इलाके के पुरीक पुरुषोत्तमपुर निवासी और ट्रक चालक सहरसा जिले के धमसैनी गांव निवासी रवि कुमार के रूप में हुई है। ये दोनों झारखंड के दुमका से शराब लेकर सहरसा जा रहे थे लेकिन रास्ते में ही उत्पाद की टीम ने शराब बरामद कर तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। यह जानकारी उत्पाद अधीक्षक उमाशंकर प्रसाद ने दी।

अधीक्षक ने टीम का किया था गठन

उत्पाद अधीक्षक ने बताया कि सूचना मिली कि तस्कर ट्रक में बने गुप्त चेंबर में छिपाकर भारी मात्रा में शराब लेकर सहरसा जा रहे हैं। सूचना मिलते ही उन्होंने इंस्पेक्टर चंदन कुमार, दारोगा नील कमल मिश्रा और रामेश्वर टुडू के साथ खिरीबांध स्थित उर्दू मध्य विद्यालय के समीप घेराबंदी के लिए पहुंचे। उन लोगों ने सड़क पर ही चेकिंग की। शाम में जगदीशपुर की तरफ से एक तेज रफ्तार ट्रक वहां से गुजरने वाली थी। इससे पहले ही उन लोगों ने ट्रक को रुकने का इशारा किया लेकिन चालक उसे तेजी से लेकर आगे भागा किंतु टीम में शामिल इंस्पेक्टर व दारोगा ने ट्रक को खदेड़कर पकड़ लिया।

पुलिस दोनों शराब तस्करों का आपराधिक इतिहास खंगाल रही है

तलाशी में उत्पाद की टीम को चालक के ठीक पीछे एक गुप्त चेंबर मिला। जिसमें शराब की खेप छिपाकर रखी गई थी। गुप्त चैंबर देख उत्पाद की टीम भी आश्चर्य कर रही थी। शराब तस्करों ने बताया कि उन्हें दुमका के राजू सिंह ने शराब की खेप सहरसा पहुंचाने के लिए दिया था। सहरसा में शराब कहां पहुंचाते टीम इसका पता लगा रही है। उत्पाद पुलिस दोनों शराब तस्करों का आपराधिक इतिहास खंगाल रही है। इसके लिए उन्होंने जिलों की पुलिस से संपर्क किया है ताकि उन्हें कोर्ट में लाभ नहीं मिल सके।

Posted By: Dilip Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस