बेगूसराय : राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा राष्ट्र स्तर पर प्रभु राम की महिमा का बखान - प्रचार और प्रसार हेतु श्री राम काव्य पाठ प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। जिसमें किसी भी वर्ग, उम्र, धर्म, क्षेत्र, भाषा और राज्य के प्रतिभागी भाग ले सकेंगे। यह जानकारी राष्ट्रीय कवि संगम के जिलाध्यक्ष सुंदरम समुद्र ने दी।

शहर के लोहियानगर में आयोजित राष्ट्रीय कवि संगम की बैठक में जिला महासचिव राणा कुमार सिंह ने कहा कि प्रतियोगिता में हर भाषा के कवियों को भाग लेने की स्वतंत्रता है। प्रतियोगिता में शामिल सभी प्रतिभागियों को राष्ट्रीय कवि संगम के द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। जिला स्तर पर चयनित प्रथम तीन प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र के साथ 1100, 500 और 251 रुपये की राशि भी दी जाएगी। राज्यस्तर पर कुल 06 प्रतिभागियों का चयन किया जाएगा। प्रथम को 5100, द्वितीय को 3100 और तृतीय को 2100 रुपये की राशि दी जाएगी। जबकि राष्टस्तर पर यह राशि क्रमश 31000, 21000 और 11000 की होगी। बिहार प्रांत अध्यक्ष प्रभाकर कुमार राय ने बताया कि राम की महिमा का बखान शब्दो में कर पाना असंभव है। कितु राष्ट्रीय कवि संगम का हमेशा यह प्रयास रहा है कि बच्चे जो राष्ट्र के भविष्य होते हैं वे साहित्य से जुड़े और कविता-कहानी, साहित्य के बहाने अपनी सभ्यता - संस्कृति, परम्परा को जाने। इस प्रतियोगिता की सफलता हेतु एक कोषांग का भी गठन किया गया। अंत में बेगुसराय प्रखंड इकाई का गठन किया गया। रौशन कुमार को अध्यक्ष, रंजू ज्योति को उपाध्यक्ष, जदयू नेता गौरव सिंह राणा को महासचिव, संजय कुमार पोद्दार को संगठन मंत्री, सुधीर कुमार पान को सचिव, रौनक कुमार को कार्यक्रम प्रभारी, अशोक कुमार को मीडिया प्रभारी, मनीष कुमार को कोषाध्यक्ष और सत्यम भारती, कमलेश मिश्रा और सीतेश कुमार को सक्रिय सदस्य मनोनित किया गया।

Edited By: Jagran