बेगूसराय: नीमाचांदपुरा थाना क्षेत्र से हुई बाइक लूट मामले में रविवार को चांदपुरा व मुफस्सिल पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में हरदिया से लूट की बाइक बरामद की गई है। इस दौरान पुलिस ने हरदिया के आधा दर्जन युवकों को हिरासत में ले लिया। स्थानीय लोगों ने उक्त गिरफ्तारी के विरोध में रविवार की सुबह हरदिया के समीप एचएच-55 पर चार घंटे तक सड़क जाम कर विरोध प्रदर्शन किया। स्थानीय लोग गिरफ्तार युवकों को निर्दोष बताते हुए छोड़ने की मांग कर रहे थे। मामले की गंभीरता को देखते हुए सदर डीएसपी राजन सिन्हा व मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव कुमार लाल ने मौके पर पहुंच लोगों को निष्पक्ष जांच का आश्वासन दिया जिसके बाद सड़क जाम खत्म हुआ।

मिली जानकारी के अनुसार बीते दिनों लाखो निवासी इन्द्रदेव सिंह के पुत्र मुकेश कुमार ने बाइक लूट की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। पुलिस अनुसंधान में लूट की बाइक हरदिया में छिपाने की जानकारी मिली थी जिसके बाद पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए जहां बाइक बरामद कर लिया वहीं आधा दर्जन युवकों को हिरासत में ले लिया था। नीमा चांदपुरा थानाध्यक्ष अमित कांत ने बताया कि पूछताछ के बाद चार युवकों को मुक्त कर दिया गया है वहीं हरदिया निवासी बेचन साह के पुत्र राहुल कुमार उर्फ धीरज से पूछताछ की जा रही है। उसका कॉल डिटेल खंगाला जा रहा है। वहीं मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव कुमार लाल ने बताया कि बाइक लूट के आरोपित राहुल के भाई राजा कुमार के खिलाफ मुफस्सिल थाने में पूर्व से मामला दर्ज है जिसमें उसकी तलाश थी। चांदपुरा पुलिस ने राजा कुमार को मुफस्सिल थाना के हवाले कर दिया गया है। इस संबंध में हरदिया निवासी बेचन साह ने बताया कि जमीन विवाद में कंकौल के रामा यादव ने उनकी कीमती जमीन को उसके आधे के हिस्सेदार से लिखा लिया है और उनपर घर खाली करने का दबाव बना रहा है। उक्त बात का विरोध करने के कारण ही उनके पुत्रों को फंसा दिया गया है। दो अप्रैल को उनके पुत्र की शादी होने वाली है।