बेगूसराय। वीरपुर प्रखंड कृषि कार्यालय में गुरुवार को बीएओ हंसलाल राम की अध्यक्षता में रबी फसल बोआई में आ रही समस्या को लेकर कृषि सलाहकारों के साथ बैठक की। बैठक में डीएपी, यूरिया, पोटाश, एनपीके खाद के साथ दुकानदारों के द्वारा अन्य कृषि सामग्री लेने को बाध्य करने पर चिता व्यक्त की गई। उन्होंने कृषि सलाहकारों को खाद दुकानों की वीडियोग्राफी करने का आदेश दिया। कहा, कालाबाजारी करते पकड़े जाने पर दुकानदार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

प्रखंड क्षेत्र में कहीं कहीं दुकानदारों द्वारा निर्धारित मूल्य से अधिक कीमत पर डीएपी, यूरिया, पोटाश, एनपीके खाद बेचने की मौखिक शिकायत किसानों ने की। बीएओ ने सभी पंचायतों के कृषि सलाहकारों को किसानों से लिखित शिकायत लेकर वीडियो ग्राफी करने का आदेश दिया एवं दुकानदारों को भी चिन्हित करने को कहा। उन्होंने कहा कि जो भी दुकानदार खाद की कालाबाजारी करने में संलिप्त पाए जाएंगे उनके विरुद्ध मामला दर्ज कराया जाएगा। बीएओ हंस लाल राम ने बताया कि मुख्यमंत्री तीव्र बीज विस्तार योजना के तहत गेहूं बीज 20 किलो के पैक में 56 किसानों के लिए आया है जो 40 किसानों के बीच वितरित किया जा चुका है। इसी योजना से चना बीज आठ किलो के पैकेट में 42 किसानों के बीच वितरित किया गया। उन्होंने बताया कि मसूर, सरसों, अनुदानित गेहूं, मसूर प्रत्यक्षण, बीज ग्राम, जीरो टिलेज आदि का भी किसान लाभ ले रहे हैं। इस मौके पर कृषि समन्वयक मनीष कुमार, कृषि समन्वयक रौशन कुमार, किसान सलाहकार विश्व भारती, नीतीश कुमार, जनार्दन ठाकुर, उमेश पासवान सहित अन्य लोग मौजूद थे।

Edited By: Jagran