खोदावंदपुर (बेगूसराय)। कोरोना टीके की डबल डोज लेने के बाद इम्युनिटी बढ़ने के साथ कोरोना से जंग लड़ने में टीका शरीर को सुरक्षा कवच की तरह मदद दे रहा है। कोरोना की दूसरी लहर का प्रसार कम होने के बावजूद हम अपनी, परिवार व समाज की सुरक्षा के लिए बढ़-चढ़कर टीकाकरण कराएं। कोविड से बचाव के लिए टीके की दोनों डोज लेने के बाद शरीर में प्रतिरोधक क्षमता विकसित होती है। 1. कोरोना से लड़ने का टीका हथियार है। समाज में फैली अफवाह को खारिज कर टीकाकरण अवश्य कराएं। मैं टीके की दोनों डोज लेकर बेहतर महसूस कर रहा हूं। यह सुरक्षा कवच के रूप में काम करता है। कोविड से अपनी, बच्चे एवं परिवार की सुरक्षा के लिए टीकाकरण जरूर कराएं।

महंत कन्हैया दास, बिदुलिया ठाकुरबाड़ी, मेघौल 2. टीकाकरण कराकर कोविड संक्रमण से लड़ने को हम सब तैयार रहें। कोविड से लड़ाई में वैक्सीनेशन ही सबसे बड़ा हथियार है। मैं एवं परिवार के अन्य लोगों ने दोनों टीका लिया। मेरे परिवार के सभी लोग पूरी तरह स्वस्थ हैं तथा पहले से ज्यादा सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। टीका हमारे शरीर को कोरोना से लड़ने में मददगार होगा। इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है।

कुमारी ममता भारती, समाजसेवी, दौलतपुर पंचायत, खोदावंदपुर 3. मैंने टीके की दोनों खुराक ली है। मुझे कोई परेशानी नहीं हुई। हम सभी जानते हैं कि पूरा विश्व कोविड महामारी से जूझ रहा है। ऐसी परिस्थिति में हम सभी का कर्तव्य है कि हम अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहते हुए समाज के लोगों को सजग करें। खुद भी टीका लें और दूसरों को प्रेरित करें।

जयदेव कुमार उर्फ सिटू, मटिहानी, खोदावंदपुर 4. वैक्सीन शरीर को कोविड से लड़ने के लिए तैयार करता है। वैक्सीन से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली संक्रमण से लड़ती है। और उसके खिलाफ शरीर में एंटीबॉडी बनाती है। मैंने टीके की दोनों डोज ली है। हम सभी का कर्तव्य है कि टीका लेकर हम अपने स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें और समाज के लोगों को भी सजग करें। हमने दोनों टीका लिया, अब है आप की बारी।

अनिल कुमार, पूर्व मुखिया, फफौत पंचायत, खोदावंदपुर 5. टीकाकरण से शरीर में एंटीबॉडीज बढ़ जाता है। मैं हेल्थकेयर वर्कर के रूप में वैक्सीन का दोनों डोज ले चुका हूं। मुझे किसी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं दिखा। टीका लेने के बाद शरीर में शक्ति का संचार हो रहा है। मन से कोरोना संक्रमण का डर खत्म हो गया है। दिन-रात बीमार लोगों के बीच काम करता हूं। कोरोना की वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और कारगर है।

चंद्रमौली प्रसाद, पीएचसी, खोदावंदपुर

6. रोग से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ी। कोरोना वैक्सीन का दोनों डोज लेने के बाद मेरे शरीर में रोग से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता विकसित हुई है। वैक्सीन लेने के बाद किसी भी तरह की परेशानी नहीं हुई। प्रत्येक दिन काम के लिए कार्यालय सहित अन्य जगह जाता हूं। वैश्विक महामारी से जंग जीतने के लिए टीका लगवाना ही एकमात्र विकल्प है।

संजीव कुमार पासवान, पैक्स अध्यक्ष, सागी, खोदावंदपुर।

Edited By: Jagran