बेगूसराय : बिहार विधानसभा चुनाव को ले 8 नवंबर को होने वाली मतगणना की प्रशासनिक तैयारी पूरी कर ली गई है। मतगणना के दौरान विधि व्यवस्था संधारण एवं शांतिपूर्ण मतगणना सुनिश्चित करने के लिए जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम सीमा त्रिपाठी एवं एसपी मनोज कुमार ने दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है। कृषि उत्पादन बाजार समिति में होने वाले मतगणना को ले बाजार समिति परिसर के बाहर एवं अंदर कुल 21 स्थानों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी के साथ सशस्त्र बल एवं लाठी बल को भी लगाया गया है। साथ ही चार दंडाधिकारियों को सुरक्षित रखा गया है। बाजार समिति परिसर में तीन पार्किंग स्थल का निर्धारण किया गया है तथा नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है। बाजार समिति एवं आसपास के क्षेत्रों में विधि व्यवस्था बनाए रखने तथा शांतिपूर्ण मतगणना सुनिश्चित करने हेतु सुबह 6.00 बजे से अपराह्न 5.00 बजे तक वाहनों के परिचालन व यातायात पर पूर्णत: रोक लगा दी गई है। इसको ले पन्हांस चौक एवं बाजार समिति के मुख्य द्वार से पहले मजार के पास एवं रामा इंटरप्रइजेज तथा कंकौल एवं कस्तुरबा विद्यालय के नजदीक चेक नाका बनाया गया है। चेक नाका पर पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है, जो फोटोयुक्त पास के आधार पर ही किसी भी कर्मी व व्यक्ति को नाका से आने-जाने देंगे। पन्हांस चौक स्थित चेक नाका के आगे सिर्फ सरकारी पदाधिकारियों के वाहन, परमिट प्राप्त अभ्यर्थी का एक वाहन तथा अनुमति प्राप्त मीडिया कर्मियों के वाहन के अतिरिक्त किसी वाहन को नहीं जाने दिया जाएगा। चेक नाका पर प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को यहां आने वाले अन्य वाहनों को सुभाष चौक जाने वाले रास्ते की ओर मोड़ देने का निर्देश दिया गया है। इसी तरह मंझौल की ओर से आने वाली सड़क पर बाजार समिति के उत्तरी छोड़ पर बनाए गए चेक नाका पर भी उसी अनुसार वाहनों को आने दिया जाएगा। शेष वाहनों को यहां भी रोक दिया जाएगा। मतगणना के दिन विधि व्यवस्था संधारण को ले नगर गश्ती हेतु पांच गश्ती दल का गठन भी किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिला के सात विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतगणना 8 नवंबर को प्रात: 8.00 बजे से प्रारंभ होगी। मतगणना को ले बाजार समिति परिसर में विधानसभा वार मतगणना कक्ष बनाया गया है तथा विधानसभा वार निर्वाची पदाधिकारी को नामित किया गया है। विधानसभा वार नामित निर्वाची पदाधिकारी की देख-रेख में मतगणना का कार्य 14 टेबलों पर होगा। अर्थात प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक राउंड में 14 मतदान केंद्रों की गणना की जाएगी। प्रत्येक मतगणना टेबल पर एक मतगणना पर्यवेक्षक एवं एक मतगणना सहायक की नियुक्ति की गई है। इसके अतिरिक्त प्रत्येक मतगणना टेबल पर एक स्टैटिक आब्जर्बर की प्रतिनियुक्ति की गई है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला दंडाधिकारी श्रीमति त्रिपाठी ने कहा है कि प्रत्येक विधानसभा के मतगणना हाल में दो अतिरिक्त माइक्रो आब्जर्बर की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। मतगणना को ले कृषि उत्पादन बाजार समिति के प्रवेश द्वार पर एक फैसिलिटेशन सेंटर की स्थापना भी की जाएगी। जो मतगणना के दिन 8 नवंबर को प्रात: 5.00 बजे से कार्य करेगा। इस सेंटर पर प्रतिनियुक्त अधिकारी व कर्मी मतगणना कार्य के लिए नियुक्त मतगणना पर्यवेक्षकों, सहायकों व अतिरिक्त कर्मियों को विधानसभा एवं टेबल संख्या की जानकारी देंगे। जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम ने कहा है कि मतगणना के अवसर पर सभी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों को 8 नवंबर को प्रात: 6.00 बजे तक प्रतिनियुक्त स्थान पर पहुंचना अनिवार्य है।

इनसेट

एसडीओ ने किया निषेधाज्ञा जारी

जागरण संवाददाता, बेगूसराय : कृषि उत्पादन बाजार समिति परिसर में 8 नवंबर को होने वाले मतगणना के अवसर पर विधि व्यवस्था बनाए रखने को ले सदर अनुमंडल दंडाधिकारी विनय कुमार राय ने बाजार समिति बेगूसराय प्रांगण के आसपास में निषेधाज्ञा जारी कर दिया है। इसमें पन्हांस चौक से लेकर प्रखंड कार्यालय बेगूसराय के दक्षिणी द्वार के समीप एसएच-55 भी शामिल है। यह निषेधाज्ञा 8 नवंबर को पूर्वाह्न 6.00 बजे से मतगणना की समाप्ति तक जारी किया गया है। जारी आदेश में अनुमंडलाधिकारी ने कहा है कि बाजार समिति परिसर में होने वाले मतगणना की ताजा जानकारी हेतु बाजार समिति परिसर के इर्द-गिर्द भीड़ होने की संभावना है। जिससे विधि व्यवस्था की समस्या भी पैदा हो सकती है। आदेश में उन्होंने कहा है कि मतगणना केंद्र के आस-पास पांच सौ गज के व्यासा‌र्द्ध में किसी भी स्थान पर किसी व्यक्ति का सशस्त्र, लाठी, फरसा, भाला व अन्य आग्नेयास्त्र के साथ रहना निषिद्ध रहेगा। साथ ही मतगणना केंद्र पर किसी भी व्यक्ति द्वारा जोर-जबर्दस्ती कर मतगणना प्रभावित करने का प्रयास निषिद्ध रहेगा। कहा है कि इसके विपरीत आचरण करने वाले के विरुद्ध विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी। आदेश में यह भी कहा है कि मतगणना से जुड़े मतगणना अभिकर्ता, अभ्यर्थी, उनके निर्वाचन अभिकर्ता, निर्वाची पदाधिकारी, सहायक निर्वाची पदाधिकारी के टेबल पर प्रतिनियुक्त कर्मी एवं मतगणना परिसर की व्यवस्था में लगे हुए अनुमति प्राप्त ठेकदार व उनके कर्मी पर लागू नहीं होगा।