बेगूसराय। छौड़ाही ओपी क्षेत्र में लॉकडाउन का उल्लंघन करने एवं रोकने पर जनप्रतिनिधियों पर जानलेवा हमले का सिलसिला थम नहीं रहा है। शनिवार को लॉकडाउन का उल्लंघन कर डीजे बजाने से मना करने पर सहुरी पंचायत के वार्ड नंबर पांच के वार्ड सदस्य को पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। उन्हें इलाज के लिए पीएचसी छौड़ाही में भर्ती कराया गया है। बड़ैपुरा वार्ड नंबर पांच के वार्ड सदस्य राजेंद्र यादव ने नामजद आरोपितों के विरुद्ध छौड़ाही ओपी में प्राथमिकी दर्ज कराई।

दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि वह दुग्ध समिति भी चलाते हैं। उनकी समिति के निकट शुक्रवार की देर रात्रि डीजे बज रहा था। डीजे बजाने का विरोध किया तो रामपुकार यादव, संतोष कुमार यादव, शंकर यादव गांव बड़ैपुरा निवासी ने लाठी और धारदार हथियार से बेरहमी से पिटाई कर दी। इससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। पिटाई से वार्ड सदस्य के बेहोश होने पर ग्रामीणों ने बीच बचाव कर उनकी जान बचाई और इलाज के लिए भर्ती कराया।

मुखिया रिकू देवी व उनके पति पर हो चुका है हमला : लॉकडाउन का उल्लंघन करने से मना करने पर जानलेवा हमला करने के संबंध में छौड़ाही ओपी में तीन मामले दर्ज हो चुके हैं। इसमें दो जनप्रतिनिधियों ने दर्ज कराया है। सावंत पंचायत की मुखिया रिकू देवी व उनके पति प्रणव कुमार ने लॉकडाउन उल्लंघन करने वालों को समझाने पर गाली गलौज करने, धमकी देने एवं नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कराया है। इसी पंचायत के बखड्डा निवासी रामदेव दास ने डीजे बजाने से मना करने पर रामदेव दास व उनके स्वजनों को पीटकर घायल कर दिया गया था। इन मामलों में छौड़ाही पुलिस द्वारा अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

इस संबंध में छौड़ाही ओपी अध्यक्ष राघवेंद्र कुमार ने बताया कि वार्ड सदस्य का आवेदन मिला है। प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि सभी मामलों में पुलिस काम कर रही है।

Edited By: Jagran