बांका। प्रखंड के हड़हार पंचायत अंतर्गत वार्ड नंबर 13 के मकना गांव में महीनों से मिनी जलापूर्ति के बंद रहने से हर घर नल का जल लोगों तक नहीं पहुंच रहा है।

बताया जाता है कि मकना गांव में ग्रामीण जलापूर्ति योजना वर्षों तक तो लोगो को शुद्ध पेयजल मिलता रहा। परन्तु स्टेपलाइजर जलने से ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है। संचालक देबु तुरी ने बताया कि उन्हें मानदेय भी नहीं मिला है। ग्रामीण त्रिलोकी सिन्हा का कहना है कि जिस समय यह जलमीनार चालू था, लोगों को काफी सहूलियत थी। ग्रामीणों ने बताया कि आधा दर्जन घरों में पाइप नहीं बिछाया गया है। जिससे उनके घरों तक नहीं पहुंच सकी है। परन्तु अब तो यह केवल शोभा की वस्तु बन गई है। मौके पर ग्रामीण सीताराम तुरी, अशोक तुरी, शिव कुमार तुरी, छब्बू तुरी, सिघो तुरी, देबू तुरी, देवकी देवी, तेतरी देवी, टेकन तुरी, साजन तुरी, सिदो तुरी, अजित कुमार, गनोरी तुरी ने पानी आपूर्ति की मांग की है। इस बाबत एसडीओ अमित कुमार ने बताया कि बंद पड़े मिनी जलापूर्ति को एक-दो दिन के बाद जलापूर्ति चालू कर दिया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस