बांका। दुम्मा सीमा से एक किलोमीटर पहले बिहार में कांवरिया की सेवा के लिए सबसे विशाल पंडाल वाला बरमेश्वर महादेव सेवा शिविर कांवरिया ठहराव का पिछले दो साल से बड़ा केंद्र बना हुआ है। कांवरिया की सेवा के साथ इस शिविर में कन्या शिक्षा अभियान को बढ़ावा देने के लिए बोलबम पथ पर नया अभियान शुरू किया है। आसपास के कई स्कूल की छात्राओं को पुस्तक के साथ पढ़ाई की अन्य सामग्री का वितरण किया गया। पथ के किनारे के कई विद्यालयों में जाकर इस सामग्री का वितरण हुआ। इस दौरान विद्यालय में पढ़ाई लिखाई की भी बात हुई। इस अवसर पर कई पंचायत के दर्जन भर स्कूली छात्रा को शिविर में बुला कर सम्मानित करने के साथ पढ़ाई के कई तरीके बताये गए। साथ ही बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को कारगर बनाने की पहल को आगे बढ़ाने पर बल दिया गया। इस अवसर पर सेवा शिविर के सभी सदस्य उपस्थित थे। शिविर के संचालक ने बताया कि इस शिविर से बालिका की पढ़ाई और हर प्रकार की चिकित्सा व्यवस्था सालों भर के लिए करने पर विचार हो रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस