बांका। बबूरा और बदालीचक गांव में वर्ड फ्लू को लेकर दूसरे दिन सोमवार को भी क¨लग अभियान बीडीओ अभिनव भारती के नेतृत्व में चलाया गया। जिसमें 200 से अधिक मुर्गा, मुर्गी, बतख, कबूतर, अंडा को पकड़कर उसे नष्ट करते हुए गड्ढे में दफनाया गया। बीडीओ ने बताया कि पहले दिन 726 पक्षी को पकड़कर क¨लग किया गया। जिसमें सौ से अधिक परिवारों को उनके पक्षी मुर्गा का 90 रुपये, कबूतर 70 रुपये, बतख एवं हंस 135 रुपये, अंडा तीन रुपये की पीस के हिसाब से कुल 57,000 हजार रुपये का वितरण गांव में सुपरवाइजर के द्वारा किया गया। उन्होंने बताया की क¨लग अभियान के बाद मो¨वग अभियान चलेगा। जिसके तहत छुटे हुए पक्षियों को पकड़कर नष्ट किया जाएगा।

-------------

एक किलोमीटर के दायरे में होगा छिड़काव:

क¨लग अभियान के बाद दोनों ही गांव में संयुक्त ऑपरेशन होने पर ब्ली¨चग पाउडर, सोडियम क्लोराइड, गेमेक्सशीन का छिड़काव नाला, मुर्गी फॉर्म, तालाब, घरों के बाहर कराया जाएगा। ताकि विषाणु को नष्ट किया जा सके। पशु स्वास्थ्य एवं उत्पादन संस्थान पटना से आई टीम ने बताया कि पक्षी मारने के बाद गांव के एक किलोमीटर दायरे के अलावा दस किलोमीटर तक के क्षेत्र में छिड़काव किया जाएगा। प्रत्येक 15 दिनों के बाद पक्षी को पकड़कर उसके बीट, लार, खून का सैम्पल लेकर जांच के लिए कोलकाता भेजा जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप