बांका। मंगलवार की देर रात आशीष कुमार का शव पतवारा आते ही स्वजनों के क्रंदन से ग्रामवासी भी गमगीन हो गए। बुधवार की सुबह शव देखने वालों का तांता लग गया। उपस्थित लोगों के मुख से एक ही शब्द निकल रहा था कि गांव का एक होनहार युवक चला गया। पिता बुद्धन सिंह के आंखों से आंसू गायब हो चुके हैं और पत्नी अंजली देवी बदहवास थी। आशीष की शादी मात्र दो माह पूर्व हुई थी। छोटे भाई अमरजीत ने मुखाग्नि दी। आशीष कुमार पिछले कई माह से जमशेदपुर में रह कर गाड़ी चलाता था। शनिवार को घर लौटने के दौरान फुल्लीडुमर के नगरडीह मोड़ के समीप पूर्व से घात लगाए बैठे अपराधियों ने गोली मार जख्मी कर दिया। मंगलवार की दोपहर पटना में इलाज के दौरान आशीष ने दम तोड़ दिया।

-----------

आशीष हत्याकांड में एक गिरफ्तार

संसू, फुल्लीडुमर (बांका) : एक अगस्त की रात इंग्लिश मोड़ शंभुगंज मुख्य सड़क पर नगरडीहमोड़ एवं केंदुआर पेट्रोल पम्प के बीच पतवारा के आशीष कुमार की हत्या मामले में पुलिस ने आरोपित सत्यपाल सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। थानाध्यक्ष मु. सफदर अली ने बताया कि उक्त घटना को लेकर तीन नामजद एवं पांच अज्ञात को आरोपित बनाया गया है। जिसमें एक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। प्रीतम सिंह एवं भूतो सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस