जमुई। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सोनो के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. शशि भूषण चौधरी ने थाने में 50 - 60 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। थानाध्यक्ष को दिए आवेदन में उन्होंने लिखा है कि 6 नवंबर को प्रात: 4:19 बजे ग्राम तेरुखा से प्रसव के लिए आई एक महिला का जांचोपरांत समुचित इलाज के लिए सदर अस्पताल जमुई रेफर कर दिया गया था। कुछ देर बाद महिला की मौत हो गई। जिसके बाद सुबह 9:30 बजे अस्पताल परिसर में लगभग 55 -60 अज्ञात लोग एक साथ प्रवेश कर हंगामा करते हुए बाह्य कक्ष एवं लैब टेक्नीशियन के दरवाजे का शीशा तोड़ दिया। वे लोग पथराव करने लगे। सभी स्वास्थ्यकर्मी एवं पदाधिकारी अपनी जान बचाते हुए अस्पताल से भागने को विवश हो गए। उनके द्वारा स्थानीय थाने को सूचित करने के बाद वहां पुलिस बल पहुंची तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद ने प्राथमिकी दर्ज कराए जाने की पुष्टि की है। यहां बता दें कि प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा घटना के दो दिन बाद 8 नवंबर 18 को प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। डॉ. अजीत कुमार, अजय कुमार गुप्ता, विनोद कुमार मंडल, राजेश कुमार, कन्हैया लाल, कामेश्वर प्रसाद ¨सह, आभा कुमारी, विनीता कुमारी, अनिता कुमारी तथा शमूएल अरनेष्ट हेंब्रम ने उक्त आवेदन पर बतौर गवाह हस्ताक्षर किए हैं। वहीं छह नवंबर को मृतका के ससुर ने भी चिकित्सक व अन्य कर्मियों के खिलाफ सोनो थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

Posted By: Jagran