बांका। मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक शुक्रवार के बाद शनिवार सुबह भी जिला के कई हिस्सों में बूंदाबांदी जारी रही। सुबह की बारिश से सड़कें भींग गई। आसमान में दिन भर बादल छाए रहे। इससे दोपहर तक अंधेरा छाया रहा। दोपहर बाद मौसम थोड़ा साफ हुआ।

बदले मौसम के कारण शनिवार को उच्चतम और न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। न्यूनतम तापमान 15 से 14 डिग्री पर पहुंच गया। जबकि उच्चतम तापमान दो डिग्री तक नीचे गिर गया है। यह अभी 24 पर स्थिर है। मौसम साफ होने के बाद एक-दो दिन में न्यूनतम तापमान के और नीचे गिरने की संभावना है। इसके साथ ही लोगों ने ठंड से बचने का उपाय शुरू कर दिया है। गांव में सुबह-शाम अलाव जलने लगा है। बड़े-बुजूर्गों की परेशानी बढ़ गई है। बारिश और बादल के कारण शनिवार को धनकटनी का काम पूरी तरह प्रभावित रहा। बिगड़े मौसम के कारण मजदूर और किसान बहियार नहीं निकले। इससे धनकटनी के साथ धान की तैयारी का काम भी प्रभावित रहा। केवीके की मौसम वैज्ञानिक जुबली साहू के मुताबिक रविवार से मौसम साफ हो जाएगा। रबी फसल के जिस खेत में पानी नहीं है, मौसम खुलने के बाद किसान इसकी सिचाई कर दें। मक्का की फसल में कीड़ा का तेजी से प्रकोप हो रहा है। इसके लिए दवा का प्रयोग करें।

-----------------

बाजार भी रहा सुस्त

बदले मौसम के साथ शनिवार का बाजार की चहल-पहल पर बुरा असर दिखा। सुबह से ही सड़कों पर अपेक्षाकृत कम लोग दिखे। सुबह बारिश के कारण बच्चों को स्कूल जाने में भी थोड़ी परेशानी हुई। शादी-विवाह का लगन भी थम जाने से लोगों की आवाजाही कम रही। मुख्य बाजार की दुकानों में भी भीड़ कम दिखी। बारिश और ठंड के कारण स्कूलों में भी बच्चों की उपस्थिति काफी कम हो गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस